दिल्ली विधानसभा चुनाव खबर

इससे पहले कुमार विश्वास ने केजरीवाल के खास कहे जाने वाले अमानतुल्लाह खान को लेकर एक ट्वीट किया था, जिसमें लिखा था कि, 'जिस अमानती गुंडे और उसके जोड़ीदार शरजिल इमाम से शुरू करवाया था उन्हें ही भेज कर उठवा दो,कह किस से रहे हो ?

इससे पहले 30 जनवरी को दिल्ली विधानसभा चुनाव में अपने बयान को लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को चुनाव आयोग ने चेतावनी दी थी। 13 जनवरी को सीएम केजरीवाल ने बयान देते हुए कोर्ट परिसर के अंदर मोहल्ला क्लिनिक खोलने का वादा किया था, जिस पर उन्हें यह चेतावनी दी गई थी।

एक यूजर ने रिप्लाई में लिखा कि, "चुनाव नजदीक आते ही हिंदू और बजरंगबली याद आने लग गए, कुछ महीने पहले स्वास्तिक को झाड़ू से मारा जा रहा था तब हिंदू याद नहीं आया दिल्ली की जनता के टैक्स का पैसा मस्जिद के मौलवी को 44000 वहां के सहायक को 16000 पर हनुमान मंदिर के पंडित को जीरो दंगाई को 5 लाख और सरकारी नौकरी।"

पीएम मोदी के बयान पर भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा ने एक ट्वीट करके पूछा कि, "मित्रों आज प्रधानमंत्री मोदी जी ने किस को “Tubelight” कहा?" संबित के इस ट्वीट पर लोगों ने अपने तरीके से जवाब दिया।

केजरीवाल ने 7 फरवरी को एक ट्वीट में लिखा कि, "मुझे कई लोगों के फ़ोन आ रहे हैं कि वो लोग पैसा बांटेंगे, षड्यंत्र करेंगे। मेरी सबसे अपील है- “सत्य आपके साथ है। आपने 5 साल पुण्य कमाए, दुआयें और आशीर्वाद कमाया।

वायरल हो रही ये चिट्ठी संजय सिंह की है या नहीं फिलहाल इसकी पुष्टि नहीं हुई है लेकिन इसके अलावा एक और भी खबर सोशल मीडिया पर तैर रही है कि आम आदमी पार्टी में सीएम की कुर्सी को लेकर भी घमासान की स्थिति है।

याचिका में कहा गया, कॉलम 10 में दिए गए शपथपत्र में, उत्तरदाता नंबर 4 द्वारा कहा गया है कि उनकी अधिकतम शिक्षा योग्यता नेशनल स्कूल ऑफ ओपेन स्कूलिंग से (2003) से 10वीं पास है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि, अगर कांग्रेस के रास्ते हम चलते ,तो 50 साल बाद भी शत्रु संपत्ति कानून का इंतजार देश को करते रहना पड़ता। 35 साल बाद भी नेक्स्ट जनरेशन लड़ाकू विमान का इंतजार देश को करते रहना पड़ता। 28 साल बाद भी बेनामी संपत्ति कानून लागू नहीं हो पाता।

केजरीवाल द्वारा दी जा रही फ्री सुविधाओं पर एक यूजर ने लिखा कि, "दिल्लीवासी तय करें कि असल में गरीबों का भला करना है या खुद गरीब बन कर सरकार पर फ्री का लोड डालना है।"

केजरीवाल ने एक वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा कि, "दिल्ली का चुनाव देश में एक नई किस्म की राजनीति स्थापित करेगा - काम की राजनीति। आम आदमी पार्टी को ज़्यादा से ज़्यादा वोट दे कर अगले पांच साल और तेजी से काम करने की ताकत दें।"