दिल्ली विधानसभा चुनाव

वसंतकुंज इलाके आम आदमी पार्टी के महरौली से मंगलवार को विजेता घोषित हुए विधायक नरेश यादव को ठिकाने लगाने का षडयंत्र करीब 20 दिन पहले ही रच लिया गया था। चुनावी सरगर्मियों के चलते चूंकि नरेश यादव के आसपास भीड़ हमेशा मौजूद रहती थी, साथ ही चुनावी माहौल में दिल्ली पुलिस की मुस्तैदी भी ज्यादा थी, इसीलिए वारदात को अंजाम नहीं दिया जा सका।

दिल्ली के मुख्यमंत्री के रूप में अरविंद केजरीवाल रविवार को शपथ ले सकते हैं। सूत्रों के मुताबिक इस बार केजरीवाल 16 फरवरी को तीसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। पिछली बार की तरह इस बार भी दिल्ली के रामलीला ग्राउंड में ही शपथ ग्रहण समारोह होगा, जहां केजरीवाल के साथ-साथ उनके मंत्री भी शपथ लेंगे।

दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को बड़ी जीत मिली है। इसी बीच महरौली विधायक नरेश यादव के काफिले पर मंगलवार देर रात हमला हुआ, जिसमें एक कार्यकर्ता की मौत हो गई है, जबकि एक शख्स घायल हुआ है।

दिल्ली विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी की बंपर जीत हुई है। वहीं दिल्ली भाजपा के दो नेता ऐसे रहे, जिनका केजरीवाल की आंधी में भी कुछ नहीं बिगड़ा। लगातार दूसरी बार सीट बचाने में सफल रहे ये नेता हैं रोहिणी विधानसभा सीट से जीते विजेंद्र गुप्ता और विश्वासनगर से तीसरी बार विधायक बने ओम प्रकाश शर्मा। 

कांग्रेस दिल्ली विधानसभा के चुनाव में बुरी तरह पटखनी खा चुकी है। वह कहीं लड़ाई में नजर नहीं आ रही है। इसके बावजूद कांग्रेस के नेता आम आदमी पार्टी की जीत और बीजेपी की हार से बेहद खुश हैं।

दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए वोटों की गिनती का रुझान साफ होते ही भाजपा ने हार मान ली है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के दिल्ली प्रदेश कार्यालय पर एक पोस्टर लगाया गया है, जिसके सामने आने के बाद अटकलें लगनी लगी हैं कि क्या भाजपा को पहले से ही अंदाजा था कि वह वोटों की गिनती में पिछड़ जाएगी।

दिल्ली विधानसभा चुनाव के नतीजे अब साफ होते दिख रहे हैं। शुरुआती रुझानों में आम आदमी पार्टी को पूर्ण बहुमत मिलता दिख रहा है। रुझानों के बाद भाजपा और कांग्रेस ने अपनी हार भी स्वीकार कर ली है। वहीं आम आदमी पार्टी के दफ्तर में जश्न का माहौल है।

दिल्ली विधानसभा चुनाव को लेकर तमाम एग्जिट पोल के नतीजे संकेत दे रहे हैं कि दिल्ली में सत्ता की कुर्सी केजरीवाल के पास वापस जा सकती है। इसके बाद भी भारतीय जनता पार्टी को उम्मीद बनी हुई है कि नतीजे एग्जिट पोल के उलट आ सकते हैं।

दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए मतदान 8 फरवरी को हो चुका है। हालांकि अभी तक चुनाव आयोग ने वोटिंग पर्सेंट जारी नहीं किया था।

आम आदमी पार्टी लगातार ईवीएम का सवाल उठा रही है। वह बार-बार ईवीएम में धांधली की बात कर रही है। यह हाल तब है जब सभी एग्जिट पोल में उसकी ही सरकार दिखाई गई है।