नरेंद्र सिंह तोमर

Farm Laws: बता दें कि इससे पहले भी कृषि भवन में 22 दिसंबर को किसान संघर्ष समिति और भारतीय किसान यूनियन के नेताओं के साथ केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र​ सिंह तोमर(Narendra Singh Tomar) की बैठक हुई थी।

Farmers Protest: किसान दिवस के मौके पर केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) ने भी एक उच्च स्तरीय बैठक की और इसके बाद उन्होंने मीडिया से बताया कि KCC का विषय वाजपेयी जी के समय में आया था और उस समय किसान क्रेडिट कार्ड शुरू हुआ था, अभी तक 6 लाख करोड़ रुपये का ऋण प्रवाह कृषि क्षेत्र में होता था, मोदी जी ने इसे बढ़ाकर 15 लाख करोड़ रुपये किया।

Farmers Law: कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) से मिलने किसानों का एक और दल पहुंचा था। जिसके बारे में खुद नरेंद्र सिंह तोमर ने बताया कि ये किसान संगठन के नेता किसी भी हाल में कृषि कानूनों (agricultural law) में किसी तरह का संशोधन नहीं चाहते हैं। इनके अनुसार इन कृषि कानूनों में संशोधन से किसानों का नुकसान होगा। वह जस-के-तस इन कृषि कानूनों को अंगीकार करना चाहते हैं।

Farmers Protest: केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) ने यह चिट्ठी किसानों के नाम संबोधन में लिखी है। इस पत्र में नरेंद्र सिंह तोमर ने किसान भाईयों को संबोधित करते हुए लिखा है। सभी किसान भाइयों और बहनों से मेरा आग्रह ! "सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास" के मंत्र पर चलते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हमारी सरकार ने बिना भेदभाव सभी का हित करने का प्रयास किया है। विगत 6 वर्षों का इतिहास इसका साक्षी है।

Farmer Protest: कृषि मंत्री(Agriculture Minister) ने कहा कि  तमिलनाड़ु, तेलंगाना, बिहार और महाराष्ट्र से ऑल इंडिया किसान समनव्य समिती के पदाधिकारी आए थे। पत्र देकर कृषि सुधार बिल का सभी लोगों ने समर्थन किया है।

कृषि कानूनों (Agricultural laws) के खिलाफ देश में किसानों का विरोध प्रदर्शन (Farmer Protest) आज 16वें दिन भी जारी है। किसान अभी भी अपनी मांगों पर डटे हुए हैं। ऐसे में कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Tomar)ने इस मुद्दे पर अपनी प्रतिक्रिया दी है।

Farmers Protest: केंद्रीय कृषि राज्यमंत्री कैलाश चौधरी (Kailash Chaudhary) की तरफ से इस मामले में बड़ा बयान MSP को लेकर सामने आया है। कैलाश चौधरी ने साफ और स्पष्ट रूप से कहा है कि विपक्ष किसानों को भड़का रहा है उन्होंने आगे कहा कि एमएसपी आगे जारी रहेगी, किसानों को किसी के झांसे में आने की जरूरत नहीं है।

Farmers Protest: किसानों के साथ हुई बैठक के बाद कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) ने कहा कि किसान नेताओं के साथ बैठक का चौथा चरण समाप्त हुआ है। परसों (5 दिसंबर) दोपहर में 2 बजे यूनियन के साथ सरकार की मुलाकात फिर होगी और हम किसी अंतिम निर्णय पर पहुंचेंगे। नरेंद्र सिंह तोमर ने आगे कहा कि आज बहुत अच्छे वातावरण में चर्चा हुई है। किसानों ने बहुत सही से अपने विषयों को रखा है। जो बिंदु निकले हैं उन पर हम सब लोगों की लगभग सहमति बनी है, परसों बैठेंगे तो इस बात को और आगे बढ़ाएंगे।

Farmers Protest: इस बैठक में एक किसान संगठन के प्रतिनिधि ने अपनी बात रखते हुए कहा कि, किसान कृषि कानूनों(Fermers Laws) के खिलाफ सड़कों पर है, और चाहते हैं कि सरकार को इन कानूनों को वापस ले।

Farmer Protest: इससे पहले कैबिनेट मंत्री तोमर(Narendra Singh Tomar) ने दिल्‍ली मार्च कर रहे किसानों से शुक्रवार को आंदोलन(Farmer Protest) खत्‍म करने की अपील की थी। तोमर ने आंदोलनरत किसानों को 3 दिसंबर को बातचीत का प्रस्‍ताव भी दिया था।