नवजोत सिंह सिद्धू

नवजोत सिंह सिद्धू के पाकिस्तान दौरे को लेकर हुआ बड़ा खुलासा हुआ है। यह खुलासा आरटीआई के माध्यम से हुआ है। इसके मुताबिक नवजोत सिंह सिद्धू पाक प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में निजी तौर पर नहीं बल्कि सरकारी तौर पर गए थे।

इमरान ने भी सिद्धू का गर्मजोशी के साथ स्‍वागत किया। इस बीच इमरान खान का एक विडियो वायरल हो गया है जिसमें वह कह रहे हैं कि 'हमारा सिद्धू किधर है।'

नवजोत सिंह सिद्धू ने विदेश मंत्रालय को पत्र लिखकर पाकिस्तान जाने की अनुमति मांगी थी। उन्होंने गुरुवार को तीसरी बार विदेश मंत्री एस जयशंकर को खत लिखा और जाने की अनुमति देने की बात कही थी।

पिछले साल अगस्त में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने वाले कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू एक बार फिर पाकिस्‍तान जाने के लिए तैयार हैं।

सीमा पार करतारपुर गलियारे (कॉरिडोर) के बहुप्रतीक्षित उद्घाटन से दो दिन पहले भारत ने पाकिस्तान द्वारा जारी किए गए गलियारे के आधिकारिक प्रचार वीडियो में जरनैल सिंह भिंडरावाले सहित तीन सिख अलगाववादी नेताओं की मौजूदगी पर चिंता व्यक्त की है

करतारपुर कॉरिडोर के उद्धाटन से पहले पाकिस्तान की सरकार ने एक वीडियो सॉन्ग रिलीज किया है, जिसमें खालिस्तानी अलगाववादी जरनैल सिंह भिंडरावाले व कई अन्य नेताओं की तस्वीरों के साथ कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू भी नजर आ रहे हैं।

दरअसल पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने करतारपुर कॉरिडोर में शामिल होने के लिए कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू को न्योता भेजा है। सोमवार को पाकिस्तान ने करतारपुर कॉरिडोर का पहला पास जारी करते हुए इसे नवजोत सिंह सिद्धू को भेजा।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन समारोह के लिए कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू को औपचारिक निमंत्रण भेजा। ये पास पाकिस्तान हाई कमीशन की ओर से जारी किया गया है। पास के साथ पाक प्रधानमंत्री इमरान खान का निमंत्रण भी है।

इस संबंध में सिद्धू ने दोनों नेताओं को चिट्ठी लिखी है। सिद्धू पाकिस्तान में करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन समारोह में शामिल होना चाहते हैं।

सिद्धू ने कहा, “करतारपुर कॉरिडोर के ऐतिहासिक उद्घाटन में मुझे आमंत्रित करने के लिए मैं पाकिस्तान के प्रधानमंत्री का आभारी हूं।” इमरान खान के निर्देश पर, समाचार एजेंसी पीटीआई सीनेटर फैजल जावेद ने सिद्धू से संपर्क किया और उन्हें यहां आने का न्यौता दिया।