नागरिकता संशोधन अधिनियम

नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के खिलाफ यहां शाहीन बाग में चल रहे प्रदर्शन के कारण दो महीने से बंद रास्ते को खुलवाने के लिए दायर एक याचिका पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को वरिष्ठ वकील संजय हेगड़े, वजाहत हबीबुल्लाह और साधना रामचंद्रन को प्रदर्शनकारियों से बातचीत के लिए वार्ताकार नियुक्त किया।

जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय प्रशासन ने रविवार को कहा कि सोशल मीडिया पर 15 दिसंबर की रात की घटना का वायरल हो रहा वीडियो उन्होंने जारी नहीं किया है।

अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट (एडीएम) कोर्ट ने बुधवार को मामले में सुनवाई करते हुए 20 दिसंबर को मुजफ्फरनगर में प्रदर्शन के दौरान 'सार्वजनिक संपत्ति को हुए व्यापक नुकसान' का हवाला देते हुए यह आदेश दिया। सीसीटीवी फुटेज के माध्यम से सभी आरोपियों की पहचान कर ली गई है।

पूर्व गृह मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम गुरुवार को जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के छात्रों को नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के मुद्दों पर संबोधित करेंगे।

नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के खिलाफ अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) में 29 जनवरी को भड़काऊ भाषण देने के मामले में गिरफ्तार किए गए डॉक्टर कफील खान को अलीगढ़ कोर्ट से जमानत मिल गई है।

नागरिकता संशोधन एक्ट (सीएए) और नेशनल रजिस्टर फॉर सिटीजन (एनआरसी) के विरोध में पिछले करीब दो महीने से जारी शाहीन बाग में प्रदर्शन पर आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई। सुप्रीम कोर्ट ने सीधे तौर पर प्रदर्शनकारियों को हटाने का आदेश देने से इनकार कर दिया है। 

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शुक्रवार को अनुच्छेद 370 को रद्द करने के सरकार के फैसले को ऐतिहासिक करार देते हुए कहा कि इसने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के समान विकास का मार्ग प्रशस्त किया है।

उल्लेखनीय है कि डॉ. कफिल 2017 में गोरखपुर के एक अस्पताल में हुई तमाम बच्चों की संदिग्ध मौतों के मामले में भी फंसा था। वो मामला अभी पूरी तरह निपट भी नहीं पाया था कि अब कफील इस मुसीबत में फंस गया।

शाहनी बाग में महीने भर से ज्यादा समय से चल रहे सीएए विरोधी प्रदर्शन के मास्टमाइंड शरजील इमाम ने बड़ा बेतुका बयान दिया है।

भाजपा द्वारा नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) के समर्थन में जनसभा आयोजित की गई है, जिसमें पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत कई बड़े नेता और मंत्री आ रहे हैं।