नागरिकता संशोधन बिल पास

देश के वर्तमान हालात पर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि यह सरकार की जिम्मेदारी है कि वह लोगों की बात सुने। अभी जो हो रहा है वो लोकतंत्र में अस्वीकार्य है।

पीआईबी ने बात को स्पष्ट करते हुए ट्वीट किया, "हमारी सोशल मीडिया टीम के एक सदस्य ने अनजाने में ट्वीट कर दिया था, यह उसका जामिया के हालात पर व्यक्तिगत कमेंट था। इसके लिए गहरा अफसोस हुआ है। इस संबंध में उचित कार्रवाई की जा रही है।"

संसद की तरफ जुलूस निकालने के लिए सैकड़ों की संख्या में छात्र जामिया मिलिया के बाहर जमा हो गए, लेकिन दिल्ली पुलिस के लाठी व आंसूगैस के गोले छोड़े जाने के बाद ज्यादातर छात्र भागने लगे।

इसपर फाइनल वोटिंग से पहले बिल में संशोधन को लेकर कांग्रेस और टीएमसी ने अपना 1-1 प्रस्ताव वापस ले लिया था। विपक्ष की तरफ से बिल में 14 संशोधन को लेकर प्रस्ताव दिया गया था, जिसमें से एक भी पास ना हो सका।