निर्वाचन आयोग

Assembly bypoll : भारतीय जनता पार्टी (BJP) की केंद्रीय चुनाव समिति ( BJP Central Election Committee) ने उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के लिए जिन प्रत्याशियों के नाम पर स्वीकृति दी है उनमें नौगावन सादत से संगीता चौहान, बुलंदशहर से उषा सिरोगी, टूंडला से प्रेमपाल धनगर, बांगरमऊ से श्रीकांत कटियार, घाटमपुर से उपेंद्र पासवान और मल्हानी से मनोज सिंह का नाम शामिल है।

Bihar Election: भाजपा (BJP) ने बुधवार को अगामी बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar assembly elections) के लिए अपने उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी की थी। इस सूची में नौतन से नारायण प्रसाद, बेतिया से रणु देवी, सीतामढ़ी से मिथलेश कुमार, गोपालगंज से सुभाष सिंह आदि के नाम का ऐलान भाजपा की तरफ से किया गया है। इससे पहले इसमें से सिर्फ दो उम्मीदवारों के नाम घोषित किए गए थे।

निर्वाचन आयोग की तरफ से जारी बयान के अनुसार, नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया 18 जून से शुरू होगी और 25 जून तक चलेगी। नाम वापस लेने की अंतिम तिथि 28 जून होगी। 

निर्वाचन आयोग (ईसी) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के खिलाफ आदर्श आचार संहिता उल्लंघन के मामलों पर मंगलवार यानी आज फैसला करेगा।

निर्वाचन आयोग ने इस बात को फिर से दोहराया है कि लोकसभा चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आधारित फिल्म की रिलीज पर प्रतिबंध लगाने का उसका निर्णय सही और वैध है। बुधवार को एक सूत्र ने यहां इस बात की जानकारी दी।

सर्वोच्च न्यायालय ने सोमवार को चुनाव आयोग (ईसी) को 'पीएम नरेंद्र मोदी' फिल्म देखकर इस पर इस सप्ताह के अंत तक बंद लिफाफे में रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया। प्रधान न्यायाधीश न्यायमूर्ति रंजन गोगोई व न्यायमूर्ति दीपक गुप्ता तथा न्यायमूर्ति संजीव खन्ना की पीठ ने फिल्म के निर्माता संदीप सिंह की याचिका पर सुनवाई के लिए 22 अप्रैल की तारीख तय की है।

अगर आपका नाम वोटर लिस्ट में शामिल है, तो निर्वाचन अधिकारी के सामने आपको अपनी पहचान साबित करनी होती है, ताकि आपकी पहचान पर कोई सवाल न खड़ा हो और निर्वाचन अधिकारी आपको अपने वोटिंग अधिकार का प्रयोग करने दें।

चुनाव आयोग ने लोकसभा चुनाव के चौथे चरण की अधिसूचना मंगलवार को जारी कर दी है। इस चरण में 29 अप्रैल को 8 राज्यों की 71 सीटों पर वोटिंग होगी।

निर्वाचन आयोग ने मंगलवार को सभी राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों को निर्देश दिया कि वे किसी राजनीतिक प्रोपोगंडा में संलिप्त होने से बाज आएं और प्रचार में रक्षा बलों की गतिविधियों का इस्तेमाल न करें।

पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त नवीन चावला ने आगामी आम चुनावों में उपयोग की जाने वाली ईलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) को सही बताते हुए कहा कि ईवीएम को ना तो हैक किया जा सकता है और ना ही इनसे छेड़छाड़ की जा सकती है।