न्यूजीलैंड

न्यूजीलैंड सरकार ने गुरुवार को कड़े बंदूक कानून की घोषणा की, जिसके तहत सैन्य शैली की अर्ध-स्वचालित(सेमी-ऑटोमेटिक) और असॉल्ट राइफलों पर प्रतिबंध लगाया जाएगा।

न्यूजीलैंड में दो मस्जिदों पर हमला कर 50 लोगों को मौत के घाट उतारने के आरोपी ऑस्ट्रेलियाई बंदूकधारी ने अपने वकील को हटा दिया है और कहा है कि वह अपनी पैरवी खुद करेगा। अदालत ने उसके वकील के रूप में रिचर्ड पीटर्स की नियुक्ति की थी और उन्होंने शुरुआती सुनवाई में उसका प्रतिनिधित्व किया था। पीटर्स ने सोमवार को बताया कि आरोपी ब्रेंटन टारेंट ने संकेत दिया है कि उसे वकील की जरूरत नहीं है।

न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च स्थित मस्जिदों में हुई गोलीबारी से जहां दुनियाभर में रोष है वहीं, इस गम के बीच पाकिस्तान सरकार ने मस्जिद में हमलावर से भिड़ने वाले अपने एक नागरिक को मरणोपरांत नेशनल अवॉर्ड देने का फैसला किया है।

क्राइस्टचर्च की एक अदालत ने 15 मार्च को क्राइस्टचर्च की मस्जिदों में हुए हमले का वीडियो शेयर करने के आरोपी एक 18 वर्षीय किशोर को जमानत देने से इनकार कर दिया। हमले को अंजाम देने वाले बंदूकधारी ने इसकी लाइव स्ट्रीमिंग की थी। इसमें 50 लोग मारे गए।

न्यूजीलैंड की दो मस्जिदों में अंधाधुंध गोलीबारी कर 50 लोगों को मौत की नींद सुलाने वाले आस्ट्रेलियाई व्यक्ति ने हाल के वर्षो में पाकिस्तान, तुर्की और बुल्गारिया सहित कई अन्य देशों की यात्री की थी।

पुलिस कमिश्नर माइक बुश ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि जांचकर्ताओं ने अल नूर मस्जिद से शवों को निकालते समय एक और शव पाया

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा प्रमुख एंटोनियो गुटेरेस ने कहा कि न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च में दो मस्जिदों पर हुए हमलों से स्तब्ध हैं। गुटेरेस के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, 'गुटेरेस ने मस्जिदों और सभी धर्म स्थलों की पवित्रता का स्मरण करते हुए मुस्लिमों के इस पवित्र दिन पर सभी लोगों से शोक संतप्त मुस्लिम समुदाय के साथ एकजुटता दर्शाने का आग्रह किया है।'

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च में दो मस्जिदों में नमाजियों पर हुए आतंकी हमले पर गहरे सदमे और शोक का इजहार किया है।

भारतीयों के गायब होने के मामले में विदेश मंत्रालय ने कहा, ''हमारा उच्चायोग अधिक जानकारी के लिए स्थानीय अधिकारियों के संपर्क में है। यह संवेदनशील मामला है और बिना पुष्टि इसकी जानकारी नहीं दे सकते हैं।

प्रधानमंत्री जेसिंडा अर्डर्न ने न्यू प्लाईमाउथ में मीडिया को संबोधित करते हुए क्राइस्टचर्च की घटना को न्यूजीलैंड के इतिहास का सबसे काला दिन बताया।