न्यूजीलैंड

कोलिन डी ग्रांडहोम (59) और टॉम ब्रूस (53) की अर्धशतकीय पारियों की बदौलत न्यूजीलैंड ने मंगलवार को यहां पल्लेकेले स्टेडियम में खेले गए दूसरे टी-20 मैच में मेजबान श्रीलंका को चार विकेट से हरा दिया।

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच परिपक्व रक्षा सम्बन्ध हैं, जिन्हें 2006 के रक्षा सहयोग ज्ञापन और सुरक्षा सहयोग पर 2009 के संयुक्त घोषणापत्र द्वारा मजबूत आधार प्रदान किया गया है।

भारत के लिए इस मैच में हरमनप्रीत सिंह, शमशेर सिंह, नीलकांता शर्मा, गुरशाहबजीत सिंह, और मनदीप सिंह ने गोल किए। न्यूजीलैंड ने राउंड रॉबिन मुकाबले में भारत को 2-1 से मात दी थी, लेकिन इस बार नतीजा अलग रहा।

पूर्व भारतीय कप्तान अनिल कुंबले की अगुवाई वाली क्रिकेट समिति अपनी अगली बैठक में बाउंड्री नियम सहित विश्व कप फाइनल से जुड़े मुद्दों पर चर्चा करेगी। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के क्रिकेट महाप्रबंधक ज्यौफ एलार्डिस ने यह जानकारी दी।

स्टोक्स ने फाइनल में 84 रनों की पारी खेली थी। इससे इंग्लैंड की टीम 241 रन बनाकर मैच टाई कराने में सफल रही थी और फिर सुपर ओवर में स्टोक्स ने जोस बटलर के साथ 15 रन बनाए थे। इंग्लैंड ने यह मैच अधिक बाउंड्री के आधार पर जीता था।

'स्टफ डॉट को डॉट एनजेड' के मुताबिक, लियोनी ने कहा, "सुपर ओवर के दौरान एक नर्स आई और उन्होंने कहा कि मेरे पिता की सांसें बदल रही है। मैं समझती हूं कि नीशम ने छक्का मारा और मेरे पिता ने आखिरी सांसें ली।"

आईसीसी के इस टूर्नामेंट के खत्म होने के बाद ही क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने अपनी वर्ल्ड कप 2019 की बेस्ट इलेवन सूची जारी की, जिसमें कई भारतीय खिलाड़ियों के नाम हैं लेकिन इस भारतीय दिग्गज खिलाड़ी का नाम नहीं।

वर्ल्ड कप के फाइनल मुकाबले में सुपर ओवर में इंग्लैंड ने न्यूजीलैंड को 16 रनों का टारगेट दिया है। इंग्लैंड को आखिरी ओवर में 15 रनों की जरूरत थी। बेन स्टोक्स की धमाकेदार बल्लेबाजी के कारण मैच टाई हो गया। उन्होंने 98 गेंदों में 84 रनों नाबाद पारी खेली।

न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च मस्जिद हमले के बाद से ही इस मुल्क में सेमी-ऑटोमैटिक हथियारों को खत्म करने की मांग उठ रही है। न्यूजीलैंड में दर्जनों निवासियों ने शनिवार को अपने हथियार सरकारी एजेंसियों को सौंप दिए।

इंग्लैंड और न्यूजीलैंड की टीमें अभी तक एक बार भी वनडे विश्व कप नहीं जीत सकी हैं। इंग्लैंड ने इससे पहले तीन बार फाइनल में कदम रखा था लेकिन जीत नहीं मिली थी। वहीं न्यूजीलैंड 2015 में आस्ट्रेलिया से फाइनल में मात खा गई थी, लेकिन अब दोनों टीमों के पास पहली बार विश्व विजेता बनने का मौका है।