पाकिस्तान

KulBhushan Jadhav Case : दरअसल पाकिस्तानी मीडिया(Pak Media) की रिपोर्ट्स के मुताबिक पाक विदेश मंत्रालय ने कहा है कि जिसके पास पाकिस्तान की बार का लाइसेंस हो, वही वकील पाकिस्तान(Pakistan) में केस लड़ सकता है।

पाकिस्तान (Pakistan), टर्की (Turkey) और इस्लामिक सहयोग संगठन (OIC) ने ओछी हरकत की है। दरअसल कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान, टर्की और आईओसी ने एक बार फिर भारत को घेरने की कोशिश की है।

जाहिर सी बात है कि इजरायल(Israel) के साथ मुस्लिम देशों की बढ़ती नजदीकी के पीछे सीधे तौर पर अमेरिका का हाथ है। बहरीन और इजरायल के बीच जब समझौते पर हस्ताक्षर हुए तो वहां पर अमेरिका(America) के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप(Donald Trump) मौजूद थे।

शंघाई कोऑपरेशन ऑर्गनाइजेशन (SCO) की मीटिंग में पाकिस्तान (Pakistan) की नापाक हरकत सामने आयी है। दरअसल मंगलवार को पाकिस्तान ने मीटिंग के दौरान ऐसा गलत नक्शा लगाया, जिस पर भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल (NSA Ajit Doval) ने कड़ी आपत्ति जताते हुए मीटिंग बीच में ही छोड़ दी।

पाकिस्तान (Pakistan) में सुन्नी (sunni) और शिया (Shia) समुदाय के मुसलमानों के बीच विवाद लगातार बढ़ता ही जा रहा है। यहां आतंकी संगठन सिपाह-ए-सहाबा पाकिस्तान की अपील के बाद सुन्नी समुदाय के हजारों लोग शिया मुसलमानों के खिलाफ सड़क पर उतर आए।

भारत (India) संग जारी तनाव के बीच चीन (China) दूसरे देशों में भी अपना मजबूत सैन्य ढांचा (Strong Military Structure) खड़ा करना चाहता है ताकि वह दूर रहते हुए भी जरूरत पड़ने पर अपनी सैन्य ताकत (Chinese Military Power) दिखा सके।

भारतीय क्रिकेट सिस्टम की तारीफ करते हुए पाकिस्तान (Pakistan) के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर (Shoaib Akhtar) ने कहा कि इससे विराट कोहली (Virat Kohli) को काफी फायदा पहुंचा है।

पाकिस्तान (Pakistan) के बल्लेबाज कामरान अकमल (Kamran Akmal) ने उन लोगों को आड़े हाथों लिया है जो बाबर आजम (Babar Azam) की आलोचना कर रहे हैं।

बीएसएफ को पंजाब (Punjab) के फिरोजपुर के अबोहर सीमा के पास बड़ी कामयाबी मिली है। बता दें कि अबोहर सीमा के पास पाकिस्तान (Pakistan) की तरफ से भेजा गया हथियारों का बड़ा जख़ीरा बीएसएफ ने बरामद किया है।

यह प्रॉजेक्ट बेल्ट ऐंड रोड इनिशिएटिव (Belt and Road Initiative) का हिस्सा है जिसके जरिए यूरोप, एशिया और अफ्रीका के बीच कमर्शल लिंक बनाने का उद्देश्य है। इस प्रॉजेक्ट की मदद से देश में बिजली सस्ती हो सकती है।