पीएम मोदी

पूर्वी सिंह नाम की एक यूजर ने लिखा कि, 'केजरीवाल(Arvind Kejrilwa) ने नही किया वंदे मातरम(Vande Matram) का सम्मान,ऐसे लोग प्रधानमंत्री बनने की सोचते है। धिक्कार है ऐसे मुख्यमंत्री पर जो सवैधानिक पद पर होने के बावजूद वंदे मातरम का सम्मान नहीं करता है।'

पीएम मोदी ने श्रेष्ठ भारत को लेकर कहा कि, 'हमारी Policies, हमारे Process, हमारे Products, सब कुछ Best होना चाहिए, सर्वश्रेष्ठ होना चाहिए। तभी हम एक भारत-श्रेष्ठ भारत की परिकल्पना को साकार कर पाएंगे।

PM Modi ने कहा कि, कोरोना के समय में, अपने जीवन की परवाह किए बिना हमारे डॉक्टर्स, नर्से, पैरामेडिकल स्टाफ, एंबुलेंस कर्मी, सफाई कर्मचारी, पुलिसकर्मी, सेवाकर्मी, अनेकों लोग, चौबीसों घंटे लगातार काम कर रहे हैं।

पीएम मोदी(PM Modi)ने कहा कि, देश में चल रहा Structural Reforms का सिलसिला आज एक नए पड़ाव पर पहुंचा है। Transparent Taxation – Honouring The Honest, 21वीं सदी के टैक्स सिस्टम की इस नई व्यवस्था का आज लोकार्पण किया गया है।

पीएम मोदी ने कहा कि, प्रक्रियाओं की जटिलताओं के साथ-साथ देश में Tax भी कम किया गया है। 5 लाख रुपए की आय पर अब टैक्स जीरो है। बाकी स्लैब में भी टैक्स कम हुआ है। Corporate tax के मामले में हम दुनिया में सबसे कम tax लेने वाले देशों में से एक हैं।

प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि आयकर विभाग के अधिकारियों एवं पदाधिकारियों के अलावा विभिन्न वाणिज्य मंडलों, व्यापार संघों एवं चार्टर्ड एकाउंटेंट संघों के साथ-साथ जाने-माने करदाता भी इस आयोजन में शामिल होंगे।

बता दें कि देशभर में कृष्ण जन्माष्टमी के मौके पर मंदिरों में पूजा श्रद्धालु करते नजर आए हैं। मथुरा से लेकर नोएडा और मध्य प्रदेश तक श्री कृष्ण की आरती और दर्शन की तस्वीरें आई हैं। हालांकि कोरोना वायरस महामारी के कारण इस बार मंदिरों में श्रद्धालुओं की भीड़ नजर नहीं आईं।

तमाम उपायों के बावजूद देश में इस घातक महामारी के मामले तेजी से बढ़ रहे है। ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सबसे ज्यादा कोरोना प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ आज बैठक कर रहे हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सबसे ज्यादा कोरोना प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ आज बैठक करेंगे। यह बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये होगी।

सरकारी समाचार एजेंसी PIB की फेक्ट चेक विंग यानि PIB फेक्ट चेक ने जांच की जिसमें पाया गया है कि यह लेटर फेक है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, ”दावा- एक फेसबुक यूजर ने एक लेटर पोस्ट किया है, जो कथित तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को लिखा गया है। PIB फेक्ट चेक कहता है, यह लेटर फेक है।”