प्याज के दाम

प्याज के दाम में वृद्धि को लेकर पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए वित्तमंत्री ने कहा कि प्याज की कीमतें कुछ जगहों पर घटने लगी हैं लेकिन अभी उतनी गिरावट नहीं आई है जितनी की जरूरत है।

केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को कहा कि प्याज की कीमतों पर सरकार की नजर बनी हुई है और देश में प्याज की आवक बढ़ने से कीमतों में धीरे-धीरे सुधार होने लगा है। बारिश के होने के कारण देश में प्याज की नई फसल खराब हो जाने से इसकी कीमतों में भारी इजाफा हो गया है।

सीतारमण ने कहा कि, मैं पूर्व वित्त मंत्री के एक बयान की याद दिलाती हूं। जब कीमतों में उछाल का मुद्दा था। ये मैं 2012 की बात कर रही हूं। महंगाई दर नियंत्रण से बाहर थी।

आपको बता दें कि देश में प्याज की कीमत 100 रुपये प्रति किलो से ज्यादा पहुंच गई है। हैदराबाद में प्याज की कीमत 150 के पार पहुंच गई है। प्याज की बढ़ी कीमतों को लेकर देशभर में प्रदर्शन हो रहे हैं।

राज्य सरकार ने प्याज के मूल्यों पर नियंत्रण कायम रखने तथा उपभोक्ताओं को प्याज की निरंतर आपूर्ति बनाए रखने के लिए 'मध्यप्रदेश प्याज व्यापारी (स्टॉक सीमा तथा जमाखोरी पर निर्बन्धन) आदेश 2019' जारी किया गया है

आसमान छूते प्याज के दाम को काबू में करने के लिए केंद्र सरकार ने एक बड़ा फैसला लेते हुए एमएमटीसी को एक लाख टन प्याज आयात करने का निर्देश दिया है।

केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ने प्याज की निर्यात नीति में अगले आदेश तक संशोधन किया है। इसी बीच दिल्ली सरकार ने मोबाइल वैन के जरिये 24 रुपये किलो प्याज बेचना शुरू कर दिया है।

प्याज अब ज्यादा दिनों तक नहीं रुलाएगा क्योंकि काबुल ने भारत से दोस्ती निभाते हुए देश में प्याज भेजना शुरू कर दिया है। देश की पश्चिमी सीमा से लगे सूबे पंजाब के विभिन्न शहरों में पिछले कुछ दिनों से अफगानी प्याज बिकने लगा है।