प्रज्ञा ठाकुर

प्रज्ञा को क्लीन चिट दिए जाने के संकेत पार्टी महासचिव अनिल जैन ने कहा, "प्रज्ञा ठाकुर ने अपने बयान पर सार्वजनिक तौर पर माफी मांग ली थी और प्रायश्चित करते हुए 21 प्रहर का उपवास रखा था।

प्रज्ञा ठाकुर को माफ ना करने की बात उस समय और पक्की हो गई जब संसद के सेंट्रल हाल में एक-एक करके जीते हुए सभी सांसद पीएम मोदी के सामने से गुजर रहे थे। इसी क्रम में साध्वी प्रज्ञा ठाकुुर भी मोदी के सामने से गुजरीं।

अपने बयान में माकपा ने कहा, "भाजपा के इशारे पर प्रज्ञा ने जो माफी मांगी है, वह इस बात की पुष्टि करती है कि वह अभी भी अपनी बात पर कायम हैं।"

प्रज्ञा ठाकुर के इस बयान से भाजपा ने अपना पल्ला झाड़ लिया है और कहा कि प्रज्ञा ठाकुर को इस बयान के लिए माफी मांगनी चाहिए। भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव ने कहा कि, इस बयान के लिए हम प्रज्ञा ठाकुर से स्पष्टीकरण मांगेंगे।

मथुरा से आए एक साधु ने कहा कि हमें पता नहीं था कि कोई कंप्यूटर बाबा हैं जो किसी राक्षस का सपोर्ट करने बुला लिए हैं। ये राक्षस धर्म के मर्म को जानते नहीं। जो आदमी साध्वी प्रज्ञा को जेल में भिजवा दिया, यातनाएं दीं, हिंदू को आतंकवादी कहता था, जो जाकिर नाइक को अपना आदर्श और शांति का दूत बताता है। ऐसे लोगों का साधु वेश में समर्थन करने वाले लोग पाप कर रहे हैं। ये तो नर्क में जाएंगे।

लोकसभा चुनाव में चुनाव आयोग की सख्ती का अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि प्रज्ञा ठाकुर पर 2 मई को लगा बैन आज खत्म हो रहा था कि चुनाव आयोग ने फिर से उन्हें नोटिस थमा दिया।

बाबरी मस्जिद को लेकर विवादित बयान देने वाली साध्वी प्रज्ञा ठाकुर पर चुनाव आयोग ने 2 मई से 72 घंटे के लिए प्रचार करने पर रोक लगा दिया है जिसके बाद प्रज्ञा ठाकुर ने योगी फॉर्मूला अपनाकर चुनाव आयोग की सख्ती का तोड़ निकाल लिया है।

उमा भारती मध्य प्रदेश में भाजपा के लिए एक बड़ा चेहरा मानी जाती रही हैं, लेकिन इस बार वो लोकसभा चुनाव नहीं लड़ रही हैं। ऐसे में लोगों ने कहना शुरू कर दिया कि भाजपा मध्य प्रदेश से नई 'साध्वी' की खोज में हैं।

भाजपा ने भोपाल लोकसभा सीट से साध्वी प्रज्ञा को प्रत्याशी बनाया तो लोगों ने उनकी तुलना उमा भारती से करनी शुरू कर दी। उमा भारती मध्य प्रदेश की मुख्यमंत्री भी रह चुकी हैं।

पटना में शुक्रवार को पत्रकारों से चर्चा करते हुए रामदेव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए कहा, "प्रधानमंत्री का एजेंडा केवल देश है। प्रधानमंत्री का एजेंडा भारत को महाशक्ति बनाने का है