प्रज्ञा ठाकुर

प्रज्ञा ठाकुर पहले भी विवादित बयान देती रही है। भाजपा और भाजपा उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा ठाकुर लगातार दिग्विजय सिंह और कांग्रेस पर हमले कर रहे हैं।

चुनाव में साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के खिलाफ कांग्रेस पार्टी से पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह मैदान में हैं। यहां 12 मई को मतदान होने वाला है। साध्वी प्रज्ञा ठाकुर द्वारा दिए गए दो विवादित बयानों पर निर्वाचन आयोग ने नोटिस जारी किया था।

भोपाल से भाजपा की लोकसभा प्रत्याशी प्रज्ञा ठाकुर ने कहा कि "उन्होंने खुद बाबरी मस्जिद पर चढ़कर ढांचा तोड़ा और अब वहां भव्य मंदिर बनाएंगे।"

नोटिस में कहा गया है, "प्रज्ञा ठाकुर का बयान भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्धारित आदर्श आचार संहिता की शर्तो का नियमानुसार उल्लंघन है।"

प्रज्ञा ठाकुर के इस बयान के बाद से विवाद बढ़ गया। कांग्रेस इसे शहीदों के अपमान से जोड़कर देख रही है। हालांकि भाजपा ने खुद को इस बयान से अलग कर लिया है।

भोपाल से कांग्रेस की तरफ से प्रत्याशी बनाए गए दिग्विजय सिंह के खिलाफ चुनाव लड़ रही प्रज्ञा ठाकुर ने हेमंत करकरे को लेकर कहा कि हेमंत करकरे ने मेरे साथ काफी गलत तरीके से व्यवहार किया था और गलत तरीके से फंसाया था।

भाजपा ने भोपाल संसदीय सीट से कांग्रेस उम्मीदवार दिग्विजय सिंह के खिलाफ साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को मैदान में उतारा है। साध्वी पर मालेगांव बम विस्फोट मामले में शामिल होने का आरोप है।