प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

सुंदर पिचाई ने कहा कि भारत की डिजिटल अर्थव्यवस्था को गति देने में मदद करने के लिए 75,000 करोड़ रुपए का फंड देंगे। गूगल अगले 5 से 7 सालों में 75 हजार करोड़ रुपए निवेश करेगी।

कोरोना सकंट के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई से वर्चुअली मीटिंग की। इस बात की जानकारी प्रधानमंत्री मोदी ने खुद ट्वीट करके दी है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से दिल्ली विश्वविद्यालय और देश के अन्य केंद्रीय विश्वविद्यालयों के अंतिम वर्ष की परीक्षाओं को रद्द करने का आग्रह किया।

उन्होंने प्रधानमंत्री पर हमले से परहेज की पैरवी करने वाले कुछ कांग्रेस नेताओं पर निशाना साधते हुए कहा,'कांग्रेस में कौन लोग हैं जो प्रधानमंत्री मोदी को लेकर नरम रहने की पैरवी करते हैं? उनके पास यह साहस होना चाहिए कि वे पार्टी के भीतर अथवा सार्वजनिक तौर पर अपनी बात रखें।'

बैठक में प्रधानमंत्री मोदी ने निर्देश दिया कि हमें सार्वजनिक स्थानों पर व्यक्तिगत स्वच्छता और सामाजिक अनुशासन का पालन करने की आवश्यकता को दोहराना चाहिए।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर सोशल मीडिया पर ट्रोल हो गए है। दरअसल राहुल गांधी ने मध्यप्रदेश के रीवा में एक सौर ऊर्जा परियोजना को एशिया की सबसे बड़ी परियोजना बताने के लिए शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा।

कोरोना काल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर 26 जुलाई को अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ के जरिए देशवासियों को संबोधित करेंगे। इसकी जानकारी उन्होंने खुद अपने ट्विटर हैंडल के जरिए दी है।

प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा, "अरुणाचल प्रदेश में भारी बारिश के साथ-साथ भूस्खलन के कारण हुए जानमाल के नुकसान से दुखी हूं। इस घड़ी में शोक संतप्त परिवारों के साथ हूं। घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं। प्रभावित लोगों को हर संभव सहायता प्रदान की जा रही है।"

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा है कि एलईडी के बल्व के उपयोग से देश में लगभग 24 हजार करोड़ रुपये की बचत हो रही है। पीएम मोदी ने कहा कि पहले एलईडी बल्ब के उपयोग की लोग जरुरत महसूस करते थे, मगर महंगी होने के कारण उसे खरीद नहीं पाते थे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मध्य प्रदेश के रीवा में स्थापित एशिया की सबसे बड़ी सौर उर्जा परियोजना को दिल्ली से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए राष्ट्र को समर्पित किया। इस परियोजना में 250 मेगावाट क्षमता की तीन ईकाईयां है।