प्रियंका गांधी

राजस्थान (Rajasthan) , मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) समेत कई राज्यों में बगावत झेल चुकी 'दिशाविहीन' कांग्रेस (Congress) पार्टी में एक बार फिर से नेतृत्व का मुद्दा चर्चाओं में है। पिछले चुनाव के बाद से पार्टी ऑटो पायलट मोड पर चल रही है।

एक पुस्तक 'इंडिया टुमॉरो' में दावा किया गया है कि प्रियंका गांधी(Priyanka Gandhi) ने राहुल गांधी(Rahul Gandhi) की उस बात का समर्थन किया है जिसमें उन्होंने कहा था कि गांधी परिवार के बाहर के व्यक्ति को कांग्रेस अध्यक्ष नियुक्त किया जाना चाहिए।

प्रियंका गांधी(Priyanka Gandhi) ने 1984 में इंदिरा गांधी की हत्या के बाद अगले 7 साल यानी 1991में राजीव गांधी(Rajiv Gandhi) की हत्या तक डर के माहौल में जीने का जिक्र भी किया है।

इन आरोपों पर फेसबुक(Facebook) ने अपनी तरफ से सफाई जारी की है। फेसबुक ने कहा, हम हेट स्पीच और ऐसे कंटेंट पर रोक लगाते हैं जो हिंसा भड़काता है।

प्रियंका गांधी के करीबी सहयोगी ने कहा कि सीपीडब्ल्यूडी और एस्टेट विभाग को बंगला सौंपने की प्रक्रिया जल्द शुरू होगी।

पीएम मोदी बनारस के हालात को लेकर प्रियंका गांधी ने लिखा, “प्रधानमंत्री बनारस के सांसद हैं और रक्षामंत्री लखनऊ के, अन्य भी कई केंद्रीय मंत्री उत्तर प्रदेश से हैं। आखिर बनारस, लखनऊ और आगरा में अस्थाई अस्पताल क्यों नहीं खोले जा सकते हैं।

अब कांग्रेस पार्टी की टोंक ईकाई के 59 लोगों ने इस्तीफा दे दिया है। इन लोगों ने सचिन पायलट के खिलाफ हुई कार्रवाई के विरोध में इस्तीफा दिया है।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने मंगलवार को खुद से जुड़ी एक खबर को ट्वीटर पर शेयर कर फर्जी बताया है।

उत्तर प्रदेश के कानपुर में बदमाशों के साथ हुई गोलीबारी में मारे गये पुलिसकर्मियों के मामले में विपक्षी दल सरकार पर निशाना साध रहा है। एक सुर में सबने इस मामले में सख्त कार्यवाही की मांग उठाई है।

प्रियंका गांधी को लोधी एस्टेट में स्थित 35 नंबर बंगला 21 फरवरी 1997 को आवंटित किया गया था। उस समय एसपीजी सुरक्षा प्राप्त व्यक्ति के लिए सरकारी बंगले का प्रावधान था।