बगदादी

इस्लामिक स्टेट के सरगना अबू बक्र-अल बगदादी के मारे जाने के बाद अब अमेरिकी सेना ने अब उसके उत्तराधिकारी को भी मौत के घाट उतार दिया है। मंगलवार को अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक ट्वीट कर इसकी जानकारी दी।

कारदाश ने अगस्त महीने मे कमान संभालने के फौरन बाद अपने खास लोगो को संदेश दिया था कि दुनियाभर के लोगों को इस्लामिक स्टेट की लड़ाई में शामिल किया जाए। 

मौत सामने देख जब रो पड़ा 'बगदादी'

पाकिस्तान के पूर्व गृह मंत्री रहमान मलिक ने बगदादी की मौत पर सावल खड़े किए हैं। रहमान मलिक का कहना है कि, अभी तक आईएसआईएस ने बगदादी की मौत की पुष्टी नहीं की है। 

करदाश को बगदादी का बेहद करीबी माना जाता है और दोनों 2003 में अलकायदा से संबंध होने के आरोप में इराक में बसरा स्थित जेल में एक साथ रहे थे। इससे पहले, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने रविवार को घोषणा की कि अमेरिकी सेना से घिरने के बाद अबु बकर अल-बगदादी ने खुद को ही उड़ा लिया था।

अमेरिकी राष्ट्रपति के मुताबिक सुरंग में धमाके के बाद अमेरिकी सेना ने पहले बगदादी की बॉडी हासिल की और ऑन स्पॉट DNA टेस्ट किए, तब पता चला कि जिस शख्स ने खुद को उठाया है वो बगदादी ही है।

ट्रंप ने बताया कि बगदादी अपने बच्चों के साथ सुरंग के जरिए भागने की कोशिश कर रहा था लेकिन कामयाब नहीं हो पाया। खुद को फंसता हुआ देख बगदादी ने अपनी सुसाइड वेस्ट जला ली और अपने तीन बच्चों समेत मारा गया।

ट्रंप का यह बयान कि कुछ बहुत बड़ा हुआ है, जरूर इस ओर इशारा कर रहा है कि क्या अमेरिकी सेना बगदादी को मारने में कामयाब हो गई है? ट्रप के ऐलान के बाद ही ये तस्वीर पूरी तरह साफ हो पाएगी।