बाढ़

एक तरफ जहां बाढ़ और भूस्खलन के कारण उत्तराखंड में भारी नुकसान हुआ है। वहीं उत्तरकाशी के मोरी तहसील में बादल फटने से बड़ा हादसा हो गया है। यहां अबतक इस हादसे में 17 लोगों की मौत हो चुकी है। आपदा प्रबंधन के सचिव(प्रभारी) एस ए मुरुगेसन ने इस बात की जानकारी दी है।

देश के कई राज्‍यों में बाढ़ का कहर जारी, केरल के 9 जिले 'रेड अलर्ट' पर

बारिश और बाढ़ से बेहाल कई राज्य, देखें इन राज्यों के बिगड़े हालात

बाढ़ की स्थिति का जायजा लेने बेलगावी पहुंचे सीएम येदियुरप्पा

वहीं दूसरी ओर इस मामले पर चैनल ने लिखा कि- 'पाकिस्तानी रिपोर्टर ने बाढ़ के पानी में, अपनी जिंदगी खतरे में डालकर ड्यूटी पूरी की है।

बिहार में बाढ़ की स्थिति गंभीर; कई जगह तटबंध टूटे, पटना-नेपाल सड़क संपर्क हुआ भंग

असम के काजीरंगा नेशनल पार्क और एनएच -37 क्षेत्र में बाढ़ सा दिखा नजारा

मॉनसून की भारी बारिश के कारण कई इलाकों में बाढ़, भूस्खलन का खतरा पैदा हो गया है और सभी मुख्य राजमार्गों पर यातायात प्रभावित हुआ है।

उत्तर प्रदेश के 14 जिलों में मूसलाधार बारिश की वजह से पिछले तीन दिनों के अंदर 15 लोगों की मौत हो गई है। आधिकारिक डाटा के अनुसार 9 जुलाई से 12 जुलाई तक राज्य में अबतक 15 लोगों और 23 जानवरों की मौत हो गई है।

इंडोनेशिया के बेंगकुलु प्रांत और राजधानी जकार्ता में बाढ़ और भूस्खलन से मरने वालों की संख्या सोमवार को बढ़कर 31 हो गई है जबकि 13 लापता लोगों की तलाश की जारी है।