बाढ़

देश के कई राज्यों में भारी बारिश (Heavy Rain) हो रही है। भारी बारिश से कई इलाकों में बाढ़ (Flood) जैसे हालत हो गए हैं। इससे सामान्य जान-जीवन बुरी तरह प्रभावित हुआ है।

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बताया कि हाल के वर्षो में नेपाल बाढ़ रोकने के कार्यो में सहयोग नहीं कर रहा है।

एक तरफ देश कोरोना जैसी घातक महामारी से जूझ रहा है। वहीं प्राकृतिक आपदा भी थमने का नाम नहीं ले रही। ऐसे में तेज बारिश से देश के कई राज्यों में बाढ़ के हालत बन गए है और कई राज्यों में बाढ़ आ गई है।

उत्तर भारत के कई राज्यों में गुरुवार को मध्यम बारिश हुई। एक तरफ हिमाचल, अरुणाचल प्रदेश और असम जैसे इलाकों में मूसलाधार बारिश से बाढ़ जैसे हालत हो रहे हैं। वहीं दिल्ली उमस से बेहाल हो रही है और लोग बारिश को तरस रहे हैं।

दरअसल, देश में कुल 40 मिलियन हेक्टेयर क्षेत्र बाढ़ प्रभावित इलाके में शामिल है। जिसमें गंगा और ब्रह्मपुत्र नदियों का बेसिन प्रमुख है। इस एरिया में आने वाले असम, बिहार, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल सबसे अधिक बाढ़ प्रभावित राज्य हैं।

देश में मॉनसून ने दस्तक दे दी है। इसी के साथ कई राज्यों में तेज बारिश हो रही है जो किसी के लिए खुशियों का कारण बन रहा है तो किसी के लिए परेशानी का सबब बन रहा है। ऐसे में असम में बाढ़ का कहर भी जारी है। जिससे अबतक 18 लोगों के मौत हो चुकी है।

 बाढ़ के कारण मंगलवार तक स्कूल बंद कर दिए गए हैं। इसके अलावा परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं और सार्वजनिक व निजी आयोजनों की तिथि भी आगे के लिए बढ़ा दी गई है।

Patna Flood: बाढ़ में फंसे लोगों को इस तरह पहुंचाई जा रही है राहत सामग्री

पटना में जलजमाव के बीच मॉडल ने कुछ यूं कराया फोटोशूट, लोगों ने कही ये बात

Patna Flood: सड़क से लेकर थाने तक जलजमाव का नजारा, जनजीवन बुरी तरह प्रभावित