बाढ़

 बाढ़ के कारण मंगलवार तक स्कूल बंद कर दिए गए हैं। इसके अलावा परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं और सार्वजनिक व निजी आयोजनों की तिथि भी आगे के लिए बढ़ा दी गई है।

Patna Flood: बाढ़ में फंसे लोगों को इस तरह पहुंचाई जा रही है राहत सामग्री

पटना में जलजमाव के बीच मॉडल ने कुछ यूं कराया फोटोशूट, लोगों ने कही ये बात

Patna Flood: सड़क से लेकर थाने तक जलजमाव का नजारा, जनजीवन बुरी तरह प्रभावित

बिहार का नाम दुनियाभर में रौशन करने वाली पद्मभूषण शारदा सिन्हा तक को मदद नहीं मिल पा रही है। उन्हें भी सोशल मीडिया के जरिए मदद मांगनी पड़ रही है। उन्होंने लिखा है कि राजेंद्र नगर में अपने घर में पानी में फंसी हुई हूं। मदद नहीं मिल पा रही है।

इस भीषण बारिश ने जान माल का भी नुकसान किया है। यूपी में अब तक करीब 80 जाने जा चुकी हैं। जबकि बिहार में 29 लोग अपनी जान गवां चुके हैं। पिछले 60 सालों में मानसून इतना देर से कभी नहीं लौटा है।

लेकिन पटना में इस बाढ़ के पानी के बीच एक मॉडल ने मुस्कुराते हुए फोटोशूट कराया है। पटना के युवा फोटोग्राफर सौरव अनुराज का कहना है कि उन्होंने मौजूदा स्थिति को दर्शाने के लिए ये फोटोशूट किया है।

ऐसे हालात को देखते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को आपदा विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की और जिले के जिलाधिकारियों के साथ वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए बारिश का हाल जाना।

बीते एक वर्ष में इस सड़क पर 30 से ज़्यादा दुर्घटना के मामले सामने आए हैं जिसमे 35 से ज़्यादा लोग अपनी जान गँवा चुके हैं। ऐसे में स्थानीय लोग इस सड़क से गुजरने से डरने लगे हैं।

एक तरफ जहां बाढ़ और भूस्खलन के कारण उत्तराखंड में भारी नुकसान हुआ है। वहीं उत्तरकाशी के मोरी तहसील में बादल फटने से बड़ा हादसा हो गया है। यहां अबतक इस हादसे में 17 लोगों की मौत हो चुकी है। आपदा प्रबंधन के सचिव(प्रभारी) एस ए मुरुगेसन ने इस बात की जानकारी दी है।