बीएचयू

सूत्रों के अनुसार, प्रियंका बीएचयू में छात्रों से अनौपचारिक रूप से मिलेंगी। बीएचयू सूत्रों ने कहा है कि प्रियंका के दौरे के लिए औपचारिक अनुमति नहीं दी गई है।

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) कोर्ट ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी का नाम विश्वविद्यालय के दक्षिणी परिसर से हटाने की सिफारिश की है। बीएचयू कोर्ट ने तर्क दिया है कि राजीव गांधी ने इस शैक्षिक संस्थान को लेकर 'कोई योगदान नहीं' दिया है।

आचार्य फिरोज खान ने बीएचयू के संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान संकाय में असिस्टेंट प्रोफेसर के पद से इस्तीफा दे दिया है। संकाय के प्रमुख प्रोफेसर कौशलेंद्र पाण्डेय ने इस बात की पुष्टि की। इस इस्तीफे के बाद 7 नवम्बर से धरना दे रहे छात्रों ने अपना धरना खत्म कर दिया।

डॉ. रसाल सिंह बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय के संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान विभाग में डॉ. फ़िरोज़ खान की नियुक्ति का विरोध...

बीएचयू में डॉक्टर फिरोज खान की नियुक्ति को लेकर उठे विवाद के अब शांत होने की संभावना बढ़ती जा रही है। इसके पीछे का कारण फिरोज खान का आयुर्वेद विभाग की ओर कदम बढ़ाना है।

बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय (बीएचयू) के संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान संकाय (एसवीडीवी) के साहित्य विभाग में मुस्लिम शिक्षक फिरोज खान की नियुक्ति का मामला ठंडा पड़ता दिख नहीं रहा है। अब प्रोफेसर फिरोज के विरोध में वहां के पूर्व शिक्षक लामबंद हो रहे हैं। पूर्व प्रोफेसरों ने राष्ट्रपति को पत्र भेज कर मामले में हस्तक्षेप की मांग की है।

इंद्रेश कुमार ने कहा, "वहां यह प्रश्न है कि क्या वे (फिरोज खान) अपना दायित्व ईमानदारी से निभा पाएंगे? इसकी आश्वस्ति उनकी की तरफ से नहीं आई है। इसलिए झंझट बढ़ गई है। क्या अपने दायित्वों से वह न्याय कर पाएंगे? क्या एक नए भारत को वह मजबूत कर पाएंगे?"

बीएचयू में विवि प्रशासन की ओर से धरना खत्म होने के दावे को झुठलाते हुए छात्रों ने प्रदर्शन के 16वें दिन शुक्रवार को अपना धरना जारी रखा।।

बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) के संस्कृत विद्या धर्म विज्ञान (एसवीडीवी) विभाग के छात्रों ने विभाग में सहायक प्रोफेसर के रूप में मुस्लिम प्रोफेसर फिरोज खान की नियुक्ति के खिलाफ फखवाड़े भर से चल रहे अपने प्रदर्शन को समाप्त करने का फैसला किया है।

बीएचयू में एक मुस्लिम प्रोफेसर फिरोज खान की नियुक्ति को लेकर हो रहे विरोध प्रदर्शन के बीच उनके पिता रमजान खान ने बताया कि वह और उनके पूर्वज बीते 100 सालों से राम और कृष्ण के भजन गाते आ रहे हैं।