बीजेपी

एग्जिट पोल आने के बाद बीजेपी के हौसले इतने बुलंद हैं कि पार्टी महासचिव राम माधव ने कहा कि बीजेपी 2014 से भी बड़ी जीत हासिल करेगी। उन्होंने कहा कि बीजेपी अकेले 300 और एनडीए 350 सीट जीतेगा। राम माधव ने कहा कि नॉर्थ ईस्ट में एनआरसी और सिटीजन चार्टर को लेकर जो गलतफहमियां थीं, वह दूर कर दी गई हैं। हम वहां बहुत अच्छी सीटें जीत रहे हैं।

एग्जिट पोल रिजल्ट्स में बीजेपी की सत्ता में वापसी को लेकर शेयर बाजार भी झूम उठा। दिनभर की जबरदस्त खरीदारी के बाद बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों का संवेदी सूचकांक ने 10 साल का रिकॉर्ड बना दिया। एक दिन के कारोबार में सेंसेक्स के 1421.90 अंक (3.75%) मजबूत होने का कारनामा पिछले 10 साल में पहली बार हुआ।

लोकसभा चुनाव के एग्जिट पोल्स से ये तो साफ हो गया है कि बीजेपी इस बार भी सरकार बनाने जा रही है। हालांकि कई पोल्स में ये भी दावा किया गया है कि एनडीए इस बार 300 से भी अधिक सीटें जीत सकता है। ऐसे में हम आपको स्टेटवाइज बताने जा रहे हैं कि कौनसी पार्टी कितनी सीटें जीतेगी, साथ ही ये भी बता रहे हैं कि जीतने और हारने वाली पार्टियों को वोट शेयर इस बार कितना है।

लोकसभा चुनाव के बाद एग्जिट पोल्स के नतीजे काफी चौंकाने वाले हैं। ऐसे में अब सबको 23 मई को काउंटिंग का इंतजार है, जब सारे सर्वे या तथ्यों से अलग सही फैसला आएगा। फिर भी अगर एग्जिट पोल्स की माने तो आएगा मोदी ही। दिलचस्प बात ये है कि कुछ एग्जिट पोल्स में तो बीजेपी पिछली बार के अपने अबतक के सर्वश्रेष्ठ रिकॉर्ड (282 सीट) को भी ध्वस्त कर सकती है। अकेले बीजेपी ही 300 पार कर सकती है।

लोकसभा चुनाव 2019 के आखिरी चरण का चुनाव रविवार को समाप्त हो गया। एग्जिट पोल के मुताबिक एक बार फिर एनडीए भारी बहुमत से केंद्र में सरकार बनाएगी। वोटों की गिनती के साथ ही परिणामों की घोषणा 23 मई को होगी। एक्सिस माई इंडिया के सर्वे के मुताबिक हम आपको पूरी 543 सीटों का हाल बता रहे हैं।

लोकसभा चुनाव के सातवें चरण के खत्म होते ही एग्जिट पोल ने विपक्षियों की नींद उड़ा दी है। तो वहीं एनडीए के लिए फिर से बड़ी खुशखबरी है। CNN News18-Ipsos एग्जिट पोल के मुताबिक, एनडीए 2019 के लोकसभा चुनाव में 336 सीटें जीत सकती है। भारतीय राजनीति के नए युग में राष्ट्रवाद ने जाति और क्षेत्रवाद के सारे समीकरणों को ध्वस्त कर दिया है।

रविवार को लोकसभा चुनाव के खत्म होते ही एग्जिट पोल्स आने शुरू हो चुके हैं। जिनमें बीजेपी खासकर पीएम मोदी की ताबड़तोड़ मेहनत रंग लाती दिख रही है। चूंकि लगभग सभी एग्जिट पोल्स में एक बार फिर NDA सरकार बनने के संकेत मिल रहे हैं।

लोकसभा चुनाव 2019 के छठे चरण के लिए रविवार को मतदान होगा। चूंकि सियासी जानकार यही दावा कर रहे है कि मोदी सरकार को बहुत मिल पाना मुश्किल लग रहा है। ऐसे में केंद्र में सरकार के गठन को लेकर देश के तीन अलग-अलग राज्यों के तीन बड़े नेता किंगमेकर साबित हो सकते हैं।

2019 लोकसभा चुनाव में दिल्ली पहुंचने की जंग के बीच राजधानी में अलग ही जंग छिड़ी हुई है। दिल्ली में मतदान से पहले आम आदमी पार्टी और भारतीय जनता पार्टी के बीच बवाल बढ़ गया है।

सिंघवी ने कहा कि भाजपा को यह अहसास हो गया है कि वह चुनाव हार रही है और उनके आतंरिक सर्वे ने भी इस बात का संकेत दिया है कि वे हार रहे हैं।