बॉम्बे हाईकोर्ट

Kangana Ranaut: बॉलीवुड की क्वीन कंगना रनौत (Kangana Ranaut) और बीएमसी (BMC) में चल रहे विवाद पर एक्ट्रेस की बड़ी जीत हुई है। उनके दफ्तर के तोड़-फोड़ के मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) ने शुक्रवार को सुनवाई की और एक्ट्रेस के पक्ष में फैसला दिया है।

बॉलिवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) और उनकी बहन रंगोली (Rangoli) को बॉम्बे हाई कोर्ट (Bombay high court) से बड़ी राहत मिली है। कोर्ट ने दोनों बहनों की गिरफ्तारी पर अंतरिम रोक लगा दी है।

बॉलिवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) और उनकी बहन रंगोली (Rangoli) के खिलाफ मुंबई पुलिस (Bombay Police) ने एफआईआर दर्ज की थी, जिसे रद्द कराने के लिए एक्ट्रेस ने अब बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) का दरवाजा खटखटाया है।

Mahesh Bhatt: एक्ट्रेस लुवीना लोध (luviena lodh) ने फिल्म प्रोड्यूसर महेश भट्ट (Mahesh Bhatt) और उनके परिवार पर कई गंभीर आरोप लगाए थे। जिसके बाद अब महेश भट्ट ने एक्ट्रेस के खिलाफ लीगल एक्शन (Legal Action) लिया है।

Drug case : सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के मामले में ड्रग कनेक्शन को लेकर गिरफ्तार फिल्म अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) को जमानत मिल गई है।

Kangana Ranaut Vs Shiv Sena: सोमवार को फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के दफ्तर तोड़े जाने के मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) में सुनवाई हुई। सुनवाई के दौरान तीखी बहस भी देखने को मिली।

Kangana vs Maharashtra : कंगना रनौत (Kangana Ranaut) और महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Goverment) में तनाव के बीच एक्ट्रेस के मुंबई स्थित ऑफिस (Mumbai Office) को बीएमसी (BMC) द्वारा तोड़ दिया गया। इस मामले को लेकर कंगना रनौत बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) पहुंच गई थी जिसके बाद कोर्ट ने उसकी याचिका पर सुनवाई करते हुए शिवसेना सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) से जवाब मांगा है।

Kangana VS BMC:कंगना रनौत (Kangana Ranaut) के दफ्तर पर तोड़फोड़ को लेकर कोर्ट ने BMC से जवाब मांगा है। कंगना ने बीएमसी के खिलाफ बॉम्बे हाई कोर्ट (Bombay High Court) में याचिका दी थी। कोर्ट ने गुरुवार को अपनी सुनवाई में कहा कि मकान गिराने में फुर्ती दिखती है तो मरम्मत में सुस्ती क्यों?

अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangna Ranaut) के बांद्रा स्थित ऑफिस पर बीएमसी (BMC) की कार्रवाई पर महाराष्ट्र सरकार में शामिल एनसीपी चीफ शरद पवार (NCP Chief Sharad Pawar) का बड़ा बयान सामने आया है।

बॉम्बे हाईकोर्ट (Bombay High Court) ने गुरुवार को मीडिया से सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) मामले पर जानकारी देते समय संयम बरतने को कहा, ताकि उनके बर्ताव से जांच में बाधा उत्पन्न न हो।