बोर्ड परीक्षा

यूपी में बोर्ड परीक्षाओं को बेहद सख्ती से संचालित कराया जा रहा है। इसी का असर है कि यूपी बोर्ड की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा छोड़ने वालों की संख्या चार लाख के पार पहुंच गई है।

शिक्षा विभाग संभालने वाले उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कहा कि उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद के एक वरिष्ठ अधिकारी को भी नोडल अधिकारी नामित किया गया है, ताकि छात्रों को अधिक से अधिक लाभ मिल सके।

सीबीएसई के मुताबिक कक्षा 10 के लिए 18.27 लाख और कक्षा 12 की परीक्षाओं में शामिल होने के लिए 12.87 लाख छात्र/छात्राओं ने पंजीकरण कराया है।