ब्रिटेन

देश में बढ़ते कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के बीच एक राहत की खबर सामने आई है। ब्रिटेन की ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी (Oxford University) की कोरोना वायरस वैक्सीन (Corona Vaccine) का ट्रायल आखिरी चरण में है। जिससे वैक्सीन आज से सिर्फ 42 दिन बाद यानी 6 हफ्ते में तैयार हो सकती है।

भगोड़े हीरा व्यापारी नीरव मोदी (Nirav Modi) के खिलाफ ब्रिटेन (Britain) में चल रहे प्रत्यर्पण मामले में फैसला एक दिसंबर के बाद सुनाया जाएगा।

पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ (Nawaz Sharif) एक भगोड़ा हैं और उनके प्रत्यर्पण (Extradition) के लिए सरकार ने ब्रिटिश सरकार (UK Government) से सम्पर्क किया है।

सुनक ने बताया, 'हमारी बाहर खाएं, मदद पहुंचाएं योजना का सबसे पहला मकसद 18 लाख शेफ, वेटर और रेस्त्रां कर्मियों की नौकरियां बचाना है। इस योजना से मांग बढ़ने के साथ-साथ लोग बाहर खाना खाने के लिये भी प्रोत्साहित होंगे।'

उन्होंने कहा, "मेरे स्टाफ कर्मचारियों में से एक ने मुझे थमाते हुए कहा कि एक नोट भी है जिसमें लिखा है कि ये चश्मे महात्मा गांधी के चश्मे हैं। मैंने सोचा यह तो दिलचस्प है।"

ब्रिटिश सिक्के पर महात्मा गांधी की तस्वीर का सबसे पहले विचार अक्टूबर 2019 में पूर्व मंत्री साजिद जाविद ने दिया था।

दुनियाभर में कोरोनावायरस का प्रकोप थमने नहीं ले रहा है। कोविड-19 संक्रमितों की संख्या में पहले की तुलना में अब काफी तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। इस बीच ब्रिटेन के तीन यूनिवर्सिटी प्रोफेसर कोरोना की एक दवा खोजकर रातोरात करोड़पति बन गए।

ब्रिटेन की सरकारी एजेंसी पब्लिक हेल्थ इंग्लैंड की रिपोर्ट में एक खुलासा हुआ है। जिसके मुताबिक अगर आपका वजन ज्यादा है, तो आपको सावधान होने की जरूरत है।

यह भी साफ नहीं हो सका है कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को वैक्सीन शोध हैकिंग के बारे में पता है या नहीं, लेकिन ब्रिटिश अधिकारियों का मानना ​​है कि ऐसी खुफिया जानकारी बेशकीमती हो सकती है।

चीन से अमेरिका की नाराजगी जगजाहिर हो चुकी है और इधर ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया जैसे देश भी चीन से खासे नाराज नजर आ रहे हैं।