ब्लॉग

बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन इन दिनों कोरोनावायरस के चलते अस्पताल में भर्ती हैं। जिस समय अमिताभ बच्चन को प्यार, प्रार्थना और शुभकामनाओं की जरूरत है, ऐसे समय में सोशल मीडिया पर कुछ लोग हैं जोकि नफरत फैला रहे हैं।

राजनीति स्वयं से दूर की यात्रा है। यहां स्वयं के प्रगति आस्तिक भाव नहीं है। हम स्वयं अपनी प्रशंसा करते हैं, प्रशंसा सुनने के लिए तमाम उपाय करते हैं। बेशक अपना चित्र देखकर सब प्रसन्न होते हैं। लेकिन हम अपना बड़ा चित्र चाहते हैं।

ऋग्वेद के रचनाकाल के पहले भी एक संस्कृति थी, सभ्यता थी और दर्शन भी था। ऋग्वेद में उपलब्ध संस्कृति व सभ्यता के तत्व पूर्व वैदिक काल का विस्तार हैं।

अमिताभ बच्चन के पर्सनल ब्लॉग ने बुधवार को 11 साल पूरे कर लिए। इस उपलब्धि के साथ ही मेगास्टार ने इसकी निरंतरता के लिए प्रार्थना की। अमिताभ ने साल 2008 के अप्रैल से ब्लॉग लिखना शुरू किया था।