भाजपा

पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी और भाजपा की लड़ाई इस कदर तीखी हो चुकी है कि एक दूसरे के पार्टी दफ्तरों पर कब्जा करने की मारामारी शुरु हो चुकी है। इसी क्रम में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी  उत्तर  24 परगना जिले में खुद भाजपा दफ्तर का ताला तोड़ने पहुंची।

स्वामी ने 31 मई को प्रधानमंत्री को लिखे एक पत्र में कहा कि केंद्र सरकार को सार्वजनिक हित में किसी भी जमीन का अधिग्रहण करने का अधिकार है। उन्होंने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय को आश्वस्त करें कि रामजन्मभूमि-बाबरी मस्जिद जमीन विवाद में सभी पक्षों को मुआवजा दिया जाएगा और विवादित भूमि राम मंदिर निर्माण के लिए आवंटित किया जाए।

जिस तरीके नीतीश कुमार ने अपनी राजनीतिक चाल बदली है उसको देखते हुए माना जा रहा है कि ये बिहार में अगले विधानसभा चुनाव की तैयारियों का संकेत है। दरअसल भाजपा के कुछ फोकस मुद्दे ऐसे हैं जिसमें जेडीयू का रुख बीजेपी से अलग रहा है।

कुछ सूत्रों का कहना है कि ममता की यात्रा वाले मार्ग को ‘बिल्कुल खाली’ कराया जा सकता है। सामान्य रूप से उस तरह के मार्ग को पूरी तरह से बिल्कुल खाली कराया जाता है जहां नेताओं के खिलाफ काले झंडे दिखाने या विरोध प्रदर्शन की आशंका होती है।

भाजपा के एक नेता की मानें तो अगले विधानसभा चुनाव की तैयारी में पार्टी अभी से जुट जाना चाहती है। पार्टी की मंशा यह भी है कि वह प्रदेश में गठबंधन के तिलिस्म को भी जड़ से तोड़े।

राहुल ने कहा, कोई ऐसा संस्थान नहीं है जो आप से न लड़ा हो और आपको लोकसभा में आने से रोकने का प्रयास न किया हो। आप उन सभी संस्थानों से लड़े और आपको लोकसभा में पहुंचने के लिए अपना रास्ता बनाने को मजबूर किया गया।

मुख्य सचिव कुमार आलोक ने शुक्रवार रात एक अधिसूचना में कहा था, "सुदीप रॉय बर्मन को मंत्रिपरिषद से हटा दिया गया है। राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी ने मुख्यमंत्री की सलाह पर यह कदम उठाया है।"

मोदी सरकार 2: अमित शाह ने नए गृहमंत्री के रूप में कार्यभार संभाला

बता दें कि अबतक असम में राज्यसभा की दो सीटों पर कांग्रेस का कब्जा था। लेकिन अब भाजपा ने उनमें सेंध लगा दी है। असम की दो राज्यसभा सीटों के लिए भाजपा और उसकी सहयोगी असम गण परिषद (अगप) के एक-एक उम्मीदवार को शुक्रवार को निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया गया।

पुलिस के एक अधिकारी ने यहां शुक्रवार को बताया, अमरौर ग्राम पंचायत के भाजपा अध्यक्ष गोपाल सिंह (42) अपने घर के बाहर सोए हुए थे, तभी अपराधियों ने धावा बोल दिया।