भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड

भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार पेसर जसप्रीत बुमराह को पॉली उमरीगर अवॉर्ड से नवाजा गया है। बुमराह को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) वार्षिक अवॉर्ड समारोह के दौरान रविवार को वर्ष 2018-19 में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन के लिए पॉली उमरीगर अवॉर्ड प्रदान किया गया।

भारत के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने शुक्रवार को कहा है कि वह लॉडर्स पर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) अध्यक्ष के तौर पर आकर अच्छा महसूस कर रहे हैं। इस मैदान पर आते ही गांगुली ने अपनी पुरानी यादें ताजा कीं।

सूत्र ने कहा, बुमराह विशाखापट्टनम में नेट्स में टीम के साथ जुड़ेंगे और वहां उनकी चोट की परख की जाएगी क्योंकि वह कोहली और रोहित जैसे विश्व स्तरीय बल्लेबाजों के सामने गेंदबाजी करेंगे।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के अध्यक्ष सौरव गांगुली का कहना है कि पूर्णकालिक क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) की कोई जरूरत नहीं क्योंकि इसकी भूमिका सिर्फ एक या दो मीटिंग्स तक सीमित है।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के नवनिर्वाचित अध्यक्ष सौरव गांगुली ने उन्हें प्यार देने के लिए प्रशंसको का आभार व्यक्त किया। गांगुली बुधवार को बेंगलुरू पहुंचे जहां उन्होंने पूर्व साथी और राष्ट्रीय क्रिकट अकादमी (एनसीए) के प्रमुख राहुल द्रविड़ से मुलाकात की।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के नवनिर्वाचित अध्यक्ष सौरव गांगुली का मानना है कि दिन-रात का टेस्ट मैच खेल के सबसे बड़े प्रारूप को उसकी खोई हुई पहचान दिलाने में बड़ी भूमिका निभाएगा। भारत को 22 नवंबर से कोलकाता के ऐतिहासिक ईडन गार्डन्स स्टेडियम में बांग्लादेश के साथ अपना पहला दिन-रात का टेस्ट मैच खेलना है।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के नए अध्यक्ष सौरव गांगुली ने शुक्रवार को यहां कहा कि कप्तान विराट कोहली दिन-रात का टेस्ट मैच खेलने के लिए सहमत हैं।

शास्त्री को कोच चुनने वाली एड-हॉक क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) को बोर्ड के लोकपाल डीके जैन ने हितों के टकराव में घसीटा था और ऐसी संभावनाएं जताई जा रही थीं कि अगर सीएसी का गठन अवैध घोषित होता है तो शास्त्री की कुर्सी जा सकती है। गांगुली ने हालांकि कहा है कि ऐसा करने की जरूरत नहीं है।

गांगुली के आधिकारिक तौर पर अध्यक्ष बनने के दो दिन बाद 24 अक्टूबर को भारत और बांग्लादेश के बीच होने वाली टी-20 सीरीज के लिए टीम चुनी जाएगी। पहले यह चयन 21 अक्टूबर को होना था।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के चुनाव अधिकारी एन. गोपालस्वामी ने आठ राज्य ईकाई संघों पर 23 अक्टूबर को मुंबई में होने वाली बीसीसीआई के आगामी बोर्ड चुनाव में भाग लेने से रोक दिया है।