भारतीय क्रिकेट टीम

विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शतक लगाकर शिखर धवन रंग में लौटे ही थे कि उस मैच में उनके बांए हाथ के अंगूठे में चोट लग गई थी। जिसके बाद कहा गया था शिखर धवन तीन हफ्ते तक टीम से बाहर रहेंगे।

विराट कोहली ने कहा कि, 'पाकिस्तान के साथ होने वाले मुकाबले को लेकर भारतीय टीम किसी प्रकार के दबाव में नहीं है। टीम इंडिया एक यूनिट की तरह खेल रही है और पहले के दो मैचों में ये देखने को मिला है'।

भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट सीरीज को लेकर एहसान मनी ने कहा कि, पाकिस्तान भारत के साथ क्रिकेट सीरीज सभ्य और गरिमापूर्ण तरीके से शुरु करना चाहता है।

इससे पहले दोनों टीमें तीन टी-20 और तीन वनडे मैच खेलेंगी। दौरे की शुरुआत तीन और चार अगस्त को फ्लोरिडा के ब्रोवर्ड काउंटी स्टेडियम में दो टी-20 मैच से होगी। इसके बाद दोनों टीमे गुयाना जाएंगी जहां तीसरा टी-20 मुकाबला होगा। गुयाना में ही तीन वनडे मैचों की सीरीज का पहला मैच भी खेला जाएगा। बाकी के दो मैच 11 और 14 अगस्त का खेले जाएंगे।

वहीं इस कार्यक्रम में भारतीय क्रिकेट टीम को पहला विश्व कप दिलाने वाले कप्तान कपिल देव ने कहा कि वह दिग्गज ऑलराउंडर युवराज सिंह को भारत की अपनी ऑलटाइम 11 वनडे टीम में जगह देंगे और उन्हें मैदान पर विदाई मिलनी चाहिए।

भारत द्वारा दिए गए 353 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए आस्ट्रेलिया की टीम निर्धारित 50 ओवर में 316 रनों पर ही ऑलआउट हो गई। भारत की टूर्नामेंट में यह लगातार दूसरी जीत है, उसने अपने पहले मुकाबले में दक्षिण अफ्रीका को मात दी थी।

लंदन में जारी विश्व कप मुकाबले में आस्ट्रेलिया का सामना कर रहे रोहित ने 37 पारियों में इस टीम के खिलाफ दो हजार रनों का आंकड़ा पार किया है। उनके अलावा सचिन तेंदुलकर, विवियन रिचर्ड्स और डेसमंड हेंस ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ 2000 या उससे अधिक रन बनाए हैं।

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को जान से मारने की धमकी देने वाले शख्स को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। नवी मुंबई में आईएसआईएस के टेरर मैसेज भेजने वाले इस आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

इसके पहले दक्षिण अफ्रीका टीम के कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने यहां रोज बाउल मैदान पर विश्व कप 2019 के अपने तीसरे मैच में भारत के खिलाफ टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करन का निर्णय लिया था। 

कोहली ने कहा, "मुझे लगता है कि हार्दिक पांड्या ने अच्छी बल्लेबाजी की। एमएस धोनी ने दबाव का सामना किया और रवींद्र जडेजा को भी कुछ रन मिले, इसलिए मुझे लगता है कि इस ²ष्टिकोण से हमें इस मैच से बहुत कुछ मिला।