भारतीय वाहन उद्योग

लॉकडाउन के बाद भारतीय वाहन उद्योग चीनी ऑटो सेक्टर को पछाड़ने की तैयारी कर रहा है। इसके लिए भारतीय वाहन उद्योग जल्द से जल्द चीनी ऑटो पार्ट्स पर निर्भरता खत्म करने की योजना बना रहा है।