भारत-चीन सीमा

सेना और भारतीय वायु सेना ने चीन के किसी भी दुस्साहस से प्रभावी तरीके से निपटने के लिए एलएसी पर अपनी अभियानगत तैयारियों को पहले ही तेज कर दिया है।

लद्दाख की गलवन घाटी में हुई हिंसक झड़प के बाद अब भारतीय सेना और सख्त हो गई है। सेना ने चीन से लगी सभी सीमाओं के अग्रिम मोर्चो पर तैनाती बढ़ा दी है।अब चीनी सैनिकों को कोई भी कदम उठाने से पहले दस बार सोचना सोचना होगा, क्योंकि भारतीय सेना इस मोर्चे पर कोई कसर छोड़ने को तैयार नहीं है। इतना ही नहीं कई सीमावर्ती गांवों को भी खाली कराया जा रहा है।

भारत व चीन के बीच सोमवार रात गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प में भारतीय सेना के तीन जवान शहीद हो गए, जिसके बाद दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ा हुआ है।

सूत्रों का कहना है कि भारत का स्पष्ट रुख है कि भारत चीन के साथ सीमा संबंधी मुद्दे पर डायरेक्ट संपर्क में है। दोनों देशों के बीच इसके लिए एक सुनिश्चित मैकेनिज्म है जिसके जरिए मुद्दे को हल किया जाता है।

चीन ने इससे पहले डोकलाम में भी वही कुछ करने की कोशिश की थी जो आज वह पूर्वी लद्दाख में करने की जुगत में लगा हुआ है।

बता दें कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मंगलवार को कहा था चीन के साथ सीमा पर चल रहे घटनाक्रम को लेकर सरकार को पारदर्शी तरीके से पूरे देश को जानकारी देनी चाहिए। राहुल गांधी ने कहा था कि नेपाल में क्या हुआ, कैसे हुआ, लद्दाख में क्या हुआ, सरकार को बताना चाहिए।

भारत-चीन सीमा पर इन दिनों मची हलचल के बीच अमेरिका द्वारा भारत का साथ दिए जाने पर चीन बुरी तरह भड़क गया है। चीन ने गुरुवार को कहा कि बॉर्डर मुद्दे पर अमेरिका की एक वरिष्ठ राजनयिक की टिप्पणियां ‘निरर्थक’ हैं और दोनों देशों के बीच राजनयिक माध्यम से चर्चा जारी है तथा वाशिंगटन का इससे कोई लेना-देना नहीं है।

हालांकि बाद में स्थानीय स्तर पर दोनों पक्षों के बीच बचाव से हाथापाई खत्म हुई और बातचीत से मसला हल कर लिया गया। समाचार एजेंसी एएनआई ने सेना के सूत्रों के हवाले से यह खबर दी है।

पेमा खांडू ने फेसबुक पर एक वीडियो पोस्ट किया है उसमें वो ऑल टरेन व्हीकल(एटीवी) की सवारी करते नजर आ रहे हैं। खांडू के इस वीडियो को लोग खूब पसंद कर रहे हैं और सबसे दिलचस्प बात है कि, खांडू एटीवी को खुद ड्राइव कर रहे हैं।