भारत पाक

भारत की विजय का जश्न मनाने के लिए हर साल 4 दिसंबर को नौसेना दिवस मनाया जाता है। इस युद्ध के दौरान भारतीय नौसेना ने कराची पर हमला किया था, उसी उल्लेखनीय सफलता की याद में नौसेना दिवस मनाया जाता है। इस जंग को ‘ऑपरेशन ट्राइडेंट’ के नाम से जाना जाता है।

इससे पहले डेविस कप समिति भी यह आदेश दे चुकी थी। अब आईटीएफ के स्वतंत्र ट्रिब्यूनल ने चार नवंबर को डेविस कप समिति द्वारा लिये गए फैसले पर मुहर लगाई कि यह मुकाबला तटस्थ स्थान पर खेला जाना चाहिए।

सभी समुदाय के भारतीय श्रद्धालु करतारपुर कॉरिडोर का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। इस यात्रा के लिए वीजा फ्री होगा। श्रद्धालुओं को केवल अपना वैध पासपोर्ट ले जाना होगा।

रावत ने कहा था कि भारतीय सैनिकों की कार्रवाई में एक अन्य आतंकी शिविर को गंभीर नुकसान पहुंचा। साथ ही, नियंत्रण रेखा के दूसरी तरफ आतंकवादियों के बुनियादी ढांचे को खासा नुकसान पहुंचा है।

डाक विभाग के सहायक निदेशक यूपी सिंह सेंगर ने बताया कि ताजनगरी में महीने में करीब 20 डाक पाकिस्तान की बुक होती हैं। दीपावली पर पाकिस्तान की डाक सर्वाधिक बुक होती हैं। अब इनकी बुकिंग पर रोक लगा दी है।

जनवरी से अगस्त 2019 के दौरान भारत से पाकिस्तान को चाय का निर्यात सिर्फ 48 लाख डॉलर (करीब 34 करोड़ रुपये) मूल्य के 31.4 लाख किलोग्राम का हुआ है।

समझौते पर दस्तखत करने की प्रक्रिया के दौरान भी भारत ने पाकिस्तान सरकार से एक बार फिर श्रद्धालुओं से वसूली जाने वाली 20 डॉलर की सर्विस फीस के बारे में फिर विचार करने को कहा था। मगर पाकिस्तान नहीं माना।

केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन करेंगे। अपने ट्वीट में हरसिमरत ने बताया है कि 8 नवंबर को पीएम मोदी उद्घाटन करेंगे।

पाकिस्तान ने भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को उद्घाटन समारोह में शामिल होने का न्योता दिया है और इसका औपचारिक तौर ऐलान भी किया गया।

जानिए उरी हमले की पूरी कहानी, जब आतंकियों को सेना के जवानों ने दिया मुहंतोड़ जवाब