मध्यप्रदेश सरकार

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के गोडसे को देशभक्त बताने के बाद अब मध्य प्रदेश के शिक्षा विभाग ने गांधी के नाम के साथ एक निंदनीय विशेषण जोड़ दिया है। मध्य प्रदेश के शिक्षा विभाग का एक हैरान करने वाला कारनामा सामने आया है।

साध्‍वी प्रज्ञा ने आज बताया कि कुछ दिन पूर्व उनके पास कई बार धमकी भरा कॉल आया। यह कॉल किसी प्राइवेट नंबर से आ रहा था, जिसका नंबर डिस्‍प्‍ले नहीं हो रहा था। सामने वाले व्‍यक्ति ने उन्‍हें गाली गलौज के साथ जान से मारने की धमकी दी।

कांग्रेस पार्टी नेता दिग्विजय सिंह उन्हें देखने अस्पताल गए थे। इस दौरान दिग्विजय सिंह की बातों से लग रहा था कि, वो कहना चाह रहे थे कि प्रदेश की सरकारी अस्पतालों की स्थिति काफी ज्यादा बिगड़ी है। 

मध्यप्रदेश में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने एक बार फिर से मुख्यमंत्री कमलनाथ पर वार किया है। सिंधिया ने इस बार बिजली कटौती से लेकर गौशाला तक कमलनाथ को उनके वादों की याद दिलाई है।

मध्य प्रदेश के मुरैना जिले के सुमावली से कांग्रेस विधायक एदल सिंह कंसाना के बेटे पर राजस्थान पुलिस के जवानों से मारपीट कर सरकारी कामकाज मे बाधा डालने का आरोप लगाया गया है।

लेकिन कमलनाथ के राज में गरीबों की स्थिति कैसी है इसकी एक हालिया तस्वीर सामने आई है, जहां अस्पताल में एक 8 साल के मासूम भूख की वजह से मौत हो जाती है।

इस स्थिति पर कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी दीपक बावरिया ने चिंता जताई, साथ ही उन्होंने मंत्रियों और नेताओं को चेतावनी दी कि वे कार्यकर्ताओं की उपेक्षा न करें।

दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक मध्यप्रदेश के वन मंत्री के बीच उठे विवाद को अनुशासन समिति के हवाले कर दिया है। मगर यह समिति भी पसोपेश में है।

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर की तबीयत बिगड़ गई है। बुधवार शाम उनको भोपाल के एक निजी अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया है।

कमलनाथ के फेसबुक पेज पर उनकी टीम ने उनकी बहादुरी की चर्चा करते हुए सिख गुरु गुरू गोविंद सिंह की लिखी लाइनें डाल दीं।