मनमोहन सिंह

मंगलवार को भाजपा संसदीय दल की बैठक हुई जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधा। इससे पहले सोमवार को संसद सत्र के दूसरे भाग की हंगामेदार शुरुआत हो चुकी है।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के सम्मान में राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद के आधिकारिक भोज में शामिल नहीं होंगे।

पूर्ववर्ती योजना आयोग के पूर्व उपाध्यक्ष मोंटेक सिंह अहलूवालिया ने दावा किया है कि 2013 में यूपीए शासनकाल के दौरान कांग्रेस नेता राहुल गांधी के एक आर्डिनेंस को फाड़ने पर तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने उस समय उनसे पूछा था, क्या मुझे इस्तीफा दे देना चाहिए?

कांग्रेस और असदुद्दीन ओवैसी समेत कई दल मोदी सरकार पर आरोप लगा रहे हैं कि वो एनपीआर के जरिए पिछले दरवाजे से एनआरसी लागू करना चाह रही है।

लोकसभा में बोलते हुए अमित शाह ने दो बड़े उदाहरण भी दिए। उन्होंने बताया कि लालकृष्ण आडवाणी और मनमोहन सिंह भी शरणार्थी के तौर पर बाहर से आये थे और प्रधानमंत्री व बड़े बड़े पदों पर बैठे। अमित शाह ने बताया कि मणिपुर को इनर लाइन परमिट के दायरे में लाया जाएगा।

आपको जानकर आश्चर्य होगा कि इस मांग को 2003 में तब विपक्ष के नेता मनमोहन सिंह ने राज्यसभा में उठाया था। वही कांग्रेस जो अभी सरकार के द्वारा लाए इस बिल का विरोध कर रही है वह अटल बिहारी वाजपेयी सरकार के समय संसद में खड़े होकर इस बात के लिए सरकार को तैयार करने के लिए दवाब बनाने की कोशिश कर रही थी।

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि इंद्र कुमार गुजराल ने 1984 के सिख दंगा को रोकने के लिए सेना को तैनात करने की सलाह दी थी, लेकिन तत्कालीन गृहमंत्री नरसिम्हा राव ने उनकी इस सलाह को नजरअंदाज कर दिया था।

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर कहा कि देश की पूर्व प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी को उनकी पुण्यतिथि पर विनम्र श्रद्धांजलि। इसके साथ ही गृह मंत्री अमित शाह ने भी दिल्ली के मेजर ध्यानंद स्टेडियम से इंदिरा गांधी को याद करते हुए श्रद्धांजलि दी।

पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा था कि अगर हमारी सरकार (यूपीए सरकार) के द्वारा बैंकिंग के क्षेत्र में कुछ गलतियां हुई हैं, तो फिर मोदी सरकार को उससे कुछ सीखना चाहिए था।

इंदिरा गांधी ने प्रधानमंत्री रहते हुए वीर सावरकर की लिखित में प्रशंसा की थी। अब इंदिरा गांधी के इस पत्र के सामने आने के बाद कांग्रेस इस मामले पर भी बैकफुट पर आती नजर आ रही है।