मनोहर पर्रिकर

साल 2019 में एनडीए गठबंधन को फिर से केंद्र की सत्ता मिल गई लेकिन भाजपा के कई दिग्गज नेताओं को खोने का दुःख भी इस साल पार्टी के हिस्से में आया।

राहुल गांधी के गढ़ अमेठी में बरौलिया और हरिहरपुर गांव के लोगों ने गोवा के दिवंगत मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर से जुड़ा एक खास वाक्या साझा किया है। पर्रिकर ने साल 2015 में बरौलिया और उसके बाद 2017 में हरिहरपुर गांव को गोद लिया था। उत्तर प्रदेश से राज्यसभा सांसद बनने के बाद पर्रिकर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार में रक्षामंत्री बने थे।

गोवा के नवनियुक्त मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने मंगलवार सुबह कार्यभार संभाल लिया। इससे पहले उन्होंने अपने पूर्ववर्ती दिवंगत मनोहर पर्रिकर के परिजनों से शिष्टाचार भेंट की। भाजपा सूत्रों ने कहा कि सावंत की अगुवाई वाली भाजपा-नीत गठबंधन सरकार बुधवार को विधानसभा में बहुमत साबित करेगी।

गोवा के 11वें मुख्यमंत्री के तौर पर सोमवार देर रात को शपथ लेने वाले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के युवा नेता और गोवा विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष प्रमोद सावंत इससे पहले राज्य के मंत्रिमंडल में कभी जगह नहीं बनाने के बावजूद राज्य के सर्वोच्च राजनीतिक पद पर पहुंच गए हैं।

46 वर्षीय प्रमोद सावंत गोवा में बीजेपी के अकेले विधायक हैं जो आरएसएस काडर से हैं। मुख्यमंत्री बनने से पहले वो गोवा में पार्टी के प्रवक्ता और गोवा विधानसभा के अध्यक्ष रहे हैं।

गोवा के मुख्यमंत्री और देश के रक्षा मंत्री रहे मनोहर पर्रिकर का निधन रविवार को हुआ था। सोमवार को गोवा के ही मीरामार बीच पर राजकीय सम्मान के साथ पर्रिकर का अंतिम संस्कार किया गया। पर्रिकर के शव पर पुष्पांजलि अर्पित करने के बाद उन्हें गन सल्यूट भी दिया गया। मनोहर पर्रिकर के बेटे ने उनको मुखाग्नि दी।

गोवा के मुख्यमंत्री और देश के पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर का रविवार देर रात 63 वर्ष की उम्र में निधन हो गया। पर्रिकर एडवांस्ड पैंक्रियाटिक कैंसर से ग्रस्त थे, जिसका पता पिछले साल फरवरी में चला था. उसके बाद उन्होंने गोवा, मुंबई, दिल्ली और न्यूयॉर्क के अस्पतालों में इलाज कराया। भारत सरकार ने सोमवार को देश में राष्ट्रीय शोक का ऐलान किया है, इस दौरान सरकारी दफ्तरों में तिरंगा आधा झुका रहेगा।

मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद राज्यक में उपजे सियासी हालात के बीच बीजेपी नेता प्रमोद सावंत राज्ये के नए मुख्य मंत्री हो सकते हैं। सूत्रों के मुताबिक बीजेपी ने उनका नाम तय कर लिया है।

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर की सादगी और आखिरी वक्त तक जज्बे के साथ देश सेवा के लिए उन्हें हमेशा याद किया जाएगा। वो पैंक्रियाटिक कैंसर से पीड़ित थे और वह इस बीमारी से फरवरी 2018 से जूझ रहे थे।

पूर्व रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने अपने कार्यकाल में रूस से हथियारों की खरीद में कुछ ऐसे ठोस कदम उठाए जिसकी वजह से देश के 49,300 करोड़ रुपये बच गए। बता दें कि रूस द्वारा एस 400 की खरीददारी को लेकर पूर्व रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने इसकी समीक्षा के आदेश दिए।