ममता बनर्जी

कोलकाता में एक प्रेस वार्ता के दौरान बीजेपी नेता मुकुल रॉय ने कहा, 'सीपीएम, कांग्रेस और टीएमसी के पश्चिम बंगाल के 107 विधायक भाजपा में शामिल होंगे। हमारे पास उनकी सूची तैयार है और वे हमारे संपर्क में हैं।'

उन्होंने आगे कहा, 'उपाय? इटालियंस और वंशज को पार्टी छोड़ने के लिए कहें। इसके बाद ममता एकीकृत कांग्रेस की अध्यक्ष हो सकती हैं। उसके बाद राकांपा का भी इसमें विलय हो जाए।'

नोबेल पुरस्कार का खिताब जीत चुके अमर्त्य सेन ने पिछले दिनों बयान दिया था कि, जय श्री राम का नारा बंगाल की संस्कृति का हिस्सा नहीं है और इसका इस्तेमाल आज कल लोगों को पीटने के लिए किया जा रहा है।

ये चमत्कार राज्य सभा में हुआ। ममता बनर्जी की तृणमूल कांग्रेस और बीजेपी ने एक दूसरे का साथ देकर कांग्रेस और सीपीएम दोनो को पटखनी दे दी।

बता दें कि देश के कई हिस्सों में आज जगन्नाथ रथ यात्रा निकाली गई, कोलकाता में भी ये यात्रा निकल रही है।

उद्घाटन समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर बशीरहाट से लोकसभा सांसद नुसरत जहां रूही भी अपने पति निखिल जैन के साथ मौजूद रहेंगी। इस रथयात्रा के दौरान पूर्व क्रिकेटर सौरव गांगुली की पत्नी डोना गांगुली भी अपना परफॉर्मेंस देंगी।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने विधानसभा चुनावों को लेकर बड़ा दांव चला है। बुधवार को राज्य विधानसभा में ममता ने राज्य के सभी गैर-बीजेपी दलों को साथ आने का ऑफर दिया। ममता ने साफ कहा कि बीजेपी को अगर हराना है तो सभी विपक्षी दलों को साथ आना होगा।

पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे और तृणमूल कांग्रेस नेता अभिषेक बनर्जी ने जय श्रीराम बोले जाने के मुद्दे पर निशाना साधते हुए विवादित बयान दिया है। अभिषेक ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि यदि कोई जय श्रीराम का नारा लगाए तो उसको मिठाई खिलाइए और जवाब में राम नाम सत्‍य है बोलिए।

आपातकाल की 44वीं वर्षगांठ के अवसर पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को नरेंद्र मोदी सरकार के पिछले कार्यकाल को 'सुपर इमरजेंसी' करार दिया।

बीजेपी ने अब पश्चिम बंगाल की दक्षिण दिनाजपुर जिला परिषद पर अपना कब्जा जमा लिया है। ऐसा पहली बार हुआ है कि, बीजेपी ने किसी जिला परिषद पर अपना नियंत्रण कायम किया है।