महाराष्ट्र

महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर जारी सियासी घमासान पर केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी ने बड़ा बयान दिया है। नितिन गडकरी ने आखिरकार महाराष्ट्र में सरकार गठन और मुख्यमंत्री को लेकर चल रहे सस्पेंस से पर्दा उठाया है और अपनी चुप्पी भी तोड़ी।

शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि हम बयानबाजी में विश्वास नहीं करते हैं। जिसके पास बहुमत है वह सरकार बनाएगा। मुख्यमंत्री तो शिवसेना का होगा।मेरी कभी कोई आकांक्षा नहीं थी।

9 नवंबर को महाराष्ट्र विधानसभा का कार्यकाल समाप्त होने जा रहा है, लेकिन राज्य में नई सरकार के गठन को लेकर अभी तक असमंजस बरकरार है। मुख्यमंत्री पद को लेकर भाजपा और शिवसेना के बीच पेच फंसा है। संभावनाओं और शंकाओं की इन्हीं परिस्थितियों के बीच गुरुवार को भाजपा का एक दल प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल की अगुवाई में राज्यपाल भगत सिंह कोशियारी से मौजूदा हालात पर मुलाकात करने वाला है। 

महाराष्ट्र में बीजेपी और शिवसेना के बीच सरकार बनाने को लेकर जारी खींचतान अभी क्या रूप लेगी, इसे लेकर संशय बरकरार है। बीजेपी मुख्यमंत्री पद को लेकर कोई समझौता करने के मूड में फिलहाल नहीं दिख रही है वहीं, दूसरी ओर शिनसेना के एनसीपी से संपर्क ने राज्य में राजनीति हलचल को और दिलचस्प बना दिया है।

महाराष्ट्र में जारी सियासी गतिरोध के बीच एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने शिवसेना सांसद संजय राउत से मुलाकात की। मुलाकात के बाद एनसीपी चीफ ने कहा कि हम विपक्ष में बैठेंगे। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि सरकार बनाने को लेकर शिवसेना से हमें कोई प्रस्ताव नहीं मिला है।

शिवसेना नेता संजय राउत ने बुधवार को मीडिया से बात करते हुए भाजपा पर हमला बोला। संजय राउत ने कहा कि मुख्यमंत्री पद पर जो सहमति बनी थी, उसी पर हमने चुनाव लड़ा था, उसी पर गठबंधन हुआ था। कोई प्रस्ताव ना आएगा, ना जाएगा, जो प्रस्ताव तय हुआ था सिर्फ उस पर बात होनी चाहिए।

किशोर तिवारी ने मामले को सुलझाने के लिए केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी को भेजने की मांग की। किशोर तिवारी ने कहा कि नितिन गडकरी दो घंटे में स्थिति का समाधान कर सकते हैं।

मुलाकात के बाद फडणवीस ने कहा, 'मैं नए सरकार के गठन को लेकर किसी के द्वारा जो कहा जा रहा है उसपर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता। मैं केवल इतना कहना चाहता हूं कि जल्द ही नई सरकार बनेगी इसे लेकर मुझे पूरा विश्वास है।'

महाराष्ट्र में सोमवार को यात्रियों से भरी बस हादसे का शिकार हो गई। इस हादसे में 4 लोगों की मौत हो गई जबकि 30 लोग घायल हो गए। घायलों को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनका इलाज चल रहा है। 

महाराष्ट्र में नई सरकार के गठन में गतिरोध के बीच राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) प्रमुख शरद पवार यहां सोमवार को कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात कर सकते हैं। एनसीपी नेता अजीत पवार ने यह बात मुंबई में कही।