महाराष्ट्र

शिवसेना सांसद संजय राउत ने यहां सोमवार को कहा कि शिवसेना ने केंद्र में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतात्रिंक गठबंधन (राजग) से अलग होने का फैसला किया है और पार्टी महाराष्ट्र में कांग्रेस-राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के समर्थन से सरकार बनाएगी।

महाराष्ट्र में जारी भाजपा और शिवसेना के बीच बढ़ी तल्खियां कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। आज भी शिवसेना नेता और राज्यसभा सांसद संजय राउत ने भाजपा पर हमला बोला, वहीं कांग्रेस और एनसीपी को लेकर उनके रुख में नरमी देखने को मिली।

महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर शिवसेना और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में जारी विवाद के बाद शिवसेना ने सोमवार को केंद्र में सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) छोड़ने का फैसला किया है। इसके साथ ही शिवसेना नेता अरविंद सावंत ने केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफे का ऐलान कर दिया है।

महाराष्ट्र के राज्यपाल बी.एस. कोश्यारी ने रविवार शाम शिवसेना को यह बताने के लिए निमंत्रण दिया कि क्या वह सरकार बनाना चाहती है और उसके पास राज्य में अगली सरकार बनाने की क्षमता है।

एक प्रमुख राजनीतिक घटनाक्रम में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने रविवार को स्वीकार किया कि चुनाव पूर्व गठबंधन को जनादेश मिलने के बावजूद वह महाराष्ट्र में सरकार बनाने की स्थिति में नहीं है।

महाराष्ट्र कांग्रेस के विधायक शिवसेना के साथ सरकार बनाने के लिए सहमत दिख रहे हैं। अब कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे इस मुद्दे पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से बात करेंगे।

न्यूज एजेंसी से बात करते हुए शिवसेना नेता ने कहा, 'अगर कोई सरकार बनाने को तैयार नहीं है तो शिवसेना ये जिम्मा ले सकती है।' कांग्रेस के बारे में पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा, 'कांग्रेस राज्य की दुश्मन नहीं है।

सामना के लेख रोकटोक में संजय राउत ने भाजपा की तुलना हिटलर से कर दी है। उन्होंने कहा कि पांच साल दूसरों को डर दिखाकर शासन करने वाली टोली आज खुद खौफजदा है। यह उल्टा हमला हुआ है। डराकर मार्ग और समर्थन नहीं मिलता है

राज्यपाल द्वारा बीजेपी को सरकार गठन का ऑफर दिए जाने के बाद शिवसेना एक्शन मोड में आ गई है। पार्टी ने अपने विधायकों को होटल में शिफ्ट कर दिया है, जिनके साथ आदित्य ठाकरे ने रातभर बैठक की है।

देवेंद्र फडणवीस अपना कार्यकाल पूरा करने के बाद शुक्रवार को अपना इस्तीफा राज्यपाल भागत सिंह कोश्यारी को सौंपा था। अब चुनाव के बाद सबसे बड़ी पार्टी बनी भाजपा को राज्यपाल ने सरकार बनाने का न्योता भेजा है।