महिला सुरक्षा

Uttar Pradesh: उत्तर प्रदेश की महिलाओं व बेटियों को उनकी शक्ति का बोध वृहद अभियान मिशन शक्ति से कराया जा रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रदेश में महिलाओं व बेटियों की सुरक्षा, सम्मान व स्वावलंबन के लिए प्रतिबद्ध हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश की महिलाओं व बेटियों को सौगात देते हुए ‘महिला सामर्थ्य योजना’ व ‘मुख्यमंत्री सक्षम सुपोषण’ योजना की शुरुआत की है।

Uttar Pradesh: महिलाओं की सुरक्षा व सम्मान के लिए लखनऊ समेत देश के 8 महानगरों में सेफ सिटी परियोजना शुरू की गई है। सेफ सिटी परियोजना के तहत पहले चरण में शहर के विभिन्न क्षेत्रों में महिला सुरक्षा के लिए 100 पिंक बूथ बनाए जा रहे हैं। इसमें से 70 पिंक बूथ बनकर तैयार हो चुके हैं।

योगी सरकार (Yogi Goverment) ने यूपी (UP) में महिलाओं की सुरक्षा (safety of women) की लक्ष्‍मण रेखा खींच दी है। योगी सरकार बनने के बाद उत्‍तर प्रदेश महिलाओं के लिए देश में सबसे सुरक्षित राज्‍य बन गया है। एनसीआरबी के ताजा आंकड़ों ने इसकी तस्‍दीक कर दी है।

Women Help Desk: हेल्प डेस्क(Help Desk) को लेकर सीडीओ आनंद कुमार शुक्ला ने बताया कि बृहस्पतिवार से विकास भवन में महिला हेल्प डेस्क की शुरूआत हो जाएगी। जल्द ही सभी तहसीलों और ब्लाकों(Block Level) में इसकी स्थापना की जाएगी।

UP Government: डीजीपी(DGP) एचसी अवस्थी(Hitesh Chandra Awashti) ने कहा है इसमें शिकायतकर्ता का नाम डालना अनिवार्य नहीं होगा। इसको लेकर लड़कियों व महिलाओं को भयभीत होने की जरूरत नहीं है।

Uttar Pradesh: शारदीय नवरात्र (Shardiya Navaratri) तक चलने वाले इस अभियान की शुरुआत 17 अक्टूबर को राज्यपाल आनंदीबेन पटेल (Anandiben Patel) लखनऊ से और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) बलरामपुर से इसका आगाज करेंगे।

Uttar Pradesh: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने उत्तर प्रदेश में शोहदों और दुराचारियों के विरुद्ध महाभियान छेड़ने का ऐलान किया है। मुख्यमंत्री ने दो टूक शब्दों में कहा है कि महिलाओं, बेटियों, नाबालिग बच्चों और अनुसूचित जाति के लोगों के विरुद्ध अपराध करने वालों का सभ्य समाज में कोई स्थान नहीं।

Women Safety: माना जा रहा है कि बीते दिनों में उत्तर प्रदेश(Uttar Pradesh), छत्तीसगढ़, राजस्थान(Rajasthan) व कुछ अन्य राज्यों में महिलाओं के खिलाख हालिया घटनाओं के मद्देनजर ऐसा किया गया है।

पाकिस्तान में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर तीखे विवादों के बीच निकाले गए 'औरत मार्च' पर राजधानी इस्लामाबाद में पथराव किया गया जिसमें कुछ लोगों को चोटें आई हैं।

महिला सुरक्षा को लेकर मोहाली की सड़कों पर रात में 5000 से अधिक लोग उतरे। पोंटी चड्ढा फाउंडेशन, वेव ग्रुप के सीएसआर शाखा ने आज वेव एस्टेट मोहाली में 'नाइट रन' का आयोजन किया था।