मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक

ऐसे छात्र एवं युवा जिनके अध्ययन व रूचि का का केंद्र फाइनेंस रहा है, अब घर बैठे रोजगार परक ऑनलाइन कोर्स में हिस्सा ले सकते हैं। खास बात यह है कि उच्च शिक्षा से जुड़े यह कोर्स, बैंकिंग, रिजर्व बैंक और मनी सप्लाई जैसे महत्वपूर्ण विषयों को ध्यान में रखते हुए मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा उपलब्ध कराएं गए हैं।

सीबीएसई बोर्ड ने 10 वीं और 12वीं की डेटशीट जारी कर दी है। नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में एक जुलाई से 15 जुलाई तक सीबीएसई 10वीं की परीक्षा होगी। वहीं 12वीं की परीक्षाएं 1 जुलाई से 15 जुलाई के बीच होंगी। बोर्ड परीक्षाओं को कोरोना के कारण बीच में ही टाल दिया गया था।

केंद्रीय मंत्री ने यह भी स्पष्ट किया कि 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं में शामिल होने वाले छात्रों को परीक्षाओं में उत्तीर्ण होने के बाद ही अगली कक्षा में प्रमोट किया जाएगा। हालांकि सीबीएसई अब 83 पाठ्यक्रमों के बजाय 29 मुख्य पाठ्यक्रमों की बोर्ड परीक्षा आयोजित करेगा।

केंद्रीय विद्यालय संगठन, क्षेत्रीय कार्यालय दिल्ली क्षेत्र ने छठी से बारहवीं कक्षा के विद्यार्थियों के लिए सभी विषयों की ऑनलाइन कक्षाएं शुरू करने के लिए फेसबुक और यूट्यूब पर आईडी बनाने की दिशा में पहल की है।

मानव संसाधन विकास मंत्री ने इन संस्थानों में बुनियादी ढांचे और मानव संसाधन की स्थिति की समीक्षा की और उन्हें उच्च गुणवत्ता वाले अध्यापन और अनुसंधान तथा ज्ञान को बढ़ाने के लिए मंत्रालय की ओर से अधिकतम सहयोग देने का आश्वासन दिया।

शिक्षा नीति की तैयारियों के बीच निशंक ने कहा, "तेजी से बदलते वैश्विक परिवेश में भारत गुणवत्तापरक शिक्षा एवं उद्यमशीलता के माध्यम से विश्व को नेतृत्व प्रदान करने की क्षमता रखता है।"

केंद्रीय मंत्री निशंक के मुताबिक इसका मकसद हमारे देश की भाषाई विविधता को चिन्हित करना, अन्य भारतीय भाषाओं के भी उपयोग को प्रोत्साहित करना है। इसके अलावा भारत में संस्कृतियों की विविधता और साहित्य, शिल्प, प्रदर्शन कला, लिपियों और रचनात्मक अभिव्यक्ति के अन्य रूपों को समझना और ध्यान आकर्षित करना भी अंतर्राष्ट्रीय मातृभाषा दिवस मनाने का एक बड़ा उद्देश्य है।

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने नागरिक संशोधन कानून को भारत सरकार की अहम उपलब्धि बताते हुए कहा कि मोदी सरकार की स्पष्ट नीति के कारण ही नागरिक संशोधन विधेयक संसद में पारित हो सका है।