मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल

कर्मचारियों को सैलरी देने की खातिर केंद्र सरकार से फंड मांगने पर तिवारी ने कहा कि दिल्‍ली सरकार के पास 'ऐडवर्टिजमेंट देने के लिए पैसे हैं और सैलरी देने के पैसे नहीं हैं।' बॉर्डर सील करने पर उन्‍होंने कहा कि 'दिल्‍ली की सारी व्‍यवस्‍था सिर्फ बातों पर रह गई है, जमीन पर नहीं है।'

दिल्ली सरकार ने कोरोना बुलेटिन जारी करते हुए कहा, "बीते 24 घंटों में 792 नए कोरोना पॉजिटिव रोगियों का पता लगा है। इसी के साथ दिल्ली में कोरोना पॉजिटिव रोगियों संख्या अब 15257 पहुंच गई है।"

उन्होंने कहा कि लगभग 6,500 लोग वायरस से संक्रमित हैं, और इतनी ही संख्या में अब तक ठीक हुए हैं। केजरीवाल ने यह भी कहा कि सरकार के पास 250 वेंटिलेटर हैं और केवल 11 का इस्तेमाल किया जा रहा है।

सेंगर की बेटी का कहना है कि इस ट्वीट से परिवार का मानसिक उत्पीड़न हुआ है। मानहानि भी हुई है। सुनवाई से पूर्व दबाव बनाने का आपराधिक कृत्य किया गया है। एसपी विक्रांतवीर ने बताया कि पूर्व विधायक की बेटी ने उन्हें पत्र दिया है।

कोरोनावायरस से दिल्ली में मौत के आंकड़ों को लेकर भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने केजरीवाल सरकार को घेरा है। कपिल मिश्रा ने ट्वीट कर सीएम अरविंद केजरीवाल पर कोविड-19 से मौत के आंकड़ें छिपाने का आरोप लगाया है।

सीएम केजरीवाल ने ट्वीट किया, "दिल्ली हिंसा में आईबी अफसर अंकित शर्मा जी की बहुत ही दर्दनाक तरीके से हत्या की गई थी। उनके परिवार के लिए हमने एक करोड़ रुपये की सम्मान राशि का एलान किया था। आज उस निर्णय को कैबिनेट ने मंजूरी दी है। कोरोना के चलते इसमें देर हो गई। उम्मीद है इसी हफ्ते उनके परिवार को राशि मिल जाएगी।"

प्रदेश सरकार राशन के तौर पर 4 किलो गेंहू व 1 किलो चावल दे रही है। जबकि केंद्र की तरफ 4 किलो गेंहू 1 किलो चावल और 1 किलो चना दाल मुफ्त दी जा रही है। इसके अलावा दिल्ली सरकार ने एक विशेष किट देने का वादा किया था जिंसमे 1 किलो चने, नमक, मसाले, रिफाइंड और साबुन होंगे।

बॉलीवुड के मशहूर एक्टर इरफान खान ने 54 वर्ष की उम्र में दुनिया को अलविदा कह दिया। बीते दिन इरफान खान को खराब स्वास्थ्य को लेकर मुंबई के कोकिलाबेन हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। उनकी अचानक तबीयत बिगड़ने के कारण उन्हें आईसीयू में एडमिट किया गया था। इरफान खान के निधन पर हर तरफ शोक की लहर है। राजनीतिक जगत भी शोक में डूब चुका है।

पीएम ने कहा कि लॉकडाउन की बात करते हुए मैंने कहा था कि जान है तो जहान है। जब मैंने राष्ट्र के नाम सन्देश दिया था, तो शुरुआत में ही इस बात पर जोर दिया था कि हर नागरिक की जान बचाने के लिए लॉकडाउन और सोशल डिस्टेसिंग का पालन बहुत आवश्यक है।

पीएम के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि लॉकडाउन कम से कम 30 अप्रैल तक बढ़ाया जाए। उन्होंने यह भी कहा कि यह फैसला राष्ट्रीय स्तर पर होना चाहिए, अगर राज्य अपने स्तर पर फैसला करेंगे तो उतना असर नहीं होगा।