मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के राजगढ़ (Rajgarh) जिले के ब्यावरा विधानसभा क्षेत्र से निर्वाचित कांग्रेस (Congress) विधायक गोवर्धन सिंह दांगी (Goverdhan Singh Dangi) का निधन हो गया है।

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में राशन-यूरिया की कालाबाजारी और मिलावट की आ रही शिकायतों ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) के तेवरों को तल्ख कर दिया है।

गडकरी ने मंगलवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए 45 सड़क परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। यह 45 परियोजनाएं लगभग साढ़े 11 हजार करोड़ की लागत की है। शिलान्यास एवं लोकार्पण कार्यक्रम की मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) ने अध्यक्षता की।

देश में भले ही तीन तलाक कानून (Triple Talaq) खत्म हो गया हो, मगर मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) की राजधानी की निवासी महिला को उसके एनआरआई पति ने फोन पर ही तीन बार तलाक कहकर तलाक दे दिया है।

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में सरकारी नौकरी के लिए अलग से परीक्षा नहीं होगी, बल्कि नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी (National Recruitment Agency) द्वारा आयोजित परीक्षा में मिले अंकों के आधार पर नौकरी दी जाएगी।

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने राज्य की सरकारी नौकरी सिर्फ स्थानीय लोगों को देने का ऐलान किया है। इस फैसले को जहां भाजपा (BJP) ने ऐतिहासिक करार दिया है, वहीं कांग्रेस (Congress) ने इस पर सवाल उठाए हैं।

मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) सरकार ने मंगलवार को बड़ा ऐलान किया है। दरअसल शिवराज सरकार ने ऐलान किया है कि मध्य प्रदेश सरकार की सभी नौकरियां अब मध्य प्रदेश का डोमिसाइल रखने वालों के लिए आरक्षित होंगी।

भारत को 2011 का विश्व कप जिताने वाले पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट (International Cricket) के सभी प्रारूपों से संन्यास ले लिया है।

कोरोना संक्रमण के कारण राहत इंदौरी को अस्पताल में सुबह भर्ती किया गया था और इसकी जानकारी उन्होंने खुद अपने फेसबुक अकाउंट पर भी दी थी। शाम को अचानक उन्हें तीन दिल के दौरे आए और उन्होंने अस्पताल में ही अंतिम सांस ली।

आधिकारिक तौर पर दी गई जानकारी में बताया गया है कि वेबिनार श्रृंखला के तीसरे दिन मुख्यमंत्री ने कहा है कि जिस तरह मध्यप्रदेश ने बीते वर्षो में बिजली, पानी और कृषि के क्षेत्र में विकास के नए रिकॉर्ड बनाए हैं, उसी तरह अब स्वास्थ्य और शिक्षा के क्षेत्र में श्रेष्ठ उपलब्धियां प्राप्त करने के प्रयास होंगे।