मुजफ्फरनगर

मुजफ्फरनगर जिला प्रशासन ने रविवार को कहा कि जिले में प्रत्येक रविवार 'जनता कर्फ्यू' रहेगा। जिला मजिस्ट्रेट सेल्वाकुमारी जे. ने कहा कि प्रशासन ने 'जनता कर्फ्यू' लगाने का फैसला किया गया है।

महाराष्ट्र सरकार से अनुमति पत्र लेने के बाद नवाजुद्दीन 15 मई को अपने घर पहुंचे हैं। यहां उन्हें अपने परिवार संग 25 मई तक क्वारंटाइन में रहने को कहा गया है। मुंबई से बुढ़ाना नवाज अपनी खुद की गाड़ी से आए और इस सफर में उनके साथ उनकर मां, भाभी और भाई भी मौजूद रहे।

इसके चलते गाजियाबाद, मेरठ, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, शामली, हापुड़, बिजनौर, बागपत, वाराणसी, भदोही, मथुरा, आगरा, सीतापुर, बाराबंकी, प्रयागराज, बहराइच, गोंडा और बलरामपुर जिलों में खासी सतर्कता बरती जा रही है।

अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट (एडीएम) कोर्ट ने बुधवार को मामले में सुनवाई करते हुए 20 दिसंबर को मुजफ्फरनगर में प्रदर्शन के दौरान 'सार्वजनिक संपत्ति को हुए व्यापक नुकसान' का हवाला देते हुए यह आदेश दिया। सीसीटीवी फुटेज के माध्यम से सभी आरोपियों की पहचान कर ली गई है।

नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) का सच पता चलने के साथ ही अब उसके समर्थन में लोग भारी संख्या में उतरने लगे हैं। यूपी के मुजफ्फरनगर में सीएए के समर्थन में बड़ी संख्या में मुस्लिम महिलाएं सड़कों पर उतरीं। इन महिलाओं ने हाथों में तिरंगा लेकर CAA के समर्थन में जमकर प्रदर्शन किया।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) विरोधी प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा से पीड़ित कई परिवारों से यहां शनिवार को मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने कहा कि मौलाना असद ने मुझे बताया कि पुलिस ने मदरसे के अंदर घुसकर छात्रों को बेरहमी से पीटा और फिर बच्चों को जेल में डाल दिया। प्रियंका शनिवार को सीधे मौलाना असद के घर पहुंचीं, जहां उन्होंने पीड़ितों से बात की।

प्रियंका गांधी अचानक ही मुजफ्फरनगर पहुंच गई। वो यहां हिंसा में प्रभावित लोगों के परिवारों से मिलीं। बता दें, इससे पहले उन्होंने मेरठ जाने की कोशिश की थी मगर प्रियंका को रोक दिया गया था।

शिया धर्मगुरु कल्बे जव्वाद ने शनिवार को यहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की और उनसे नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के हिंसक विरोध प्रदर्शन के संबंध में 'झूठे' मामलों में गिरफ्तार किए गए लोगों को रिहा करने की मांग की।

मुस्लिम महिला रूबी गजनी ने बताया कि है हम पीएम नरेंद्र मोदी का जो मंदिर बना रहे हैं उस सिलसिले में डीएम साहिबा को ज्ञापन देने आए थे। हम कृष्णापुरी में पीएम मोदी का मंदिर बना रहे हैं।

मुख्यमंत्री योगी ने असबाब के मर्डर के बारे में भी जानकारी देते हुए बताया इस मामले में 7 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। बीते 26 जून को चार्जशीट भी फाइल कर दी गई है।