मुलायम सिंह यादव

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने याचिका वापस लेने पर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव का आभार जताया है।

मेदांता अस्पताल के निदेशक डॉ. राकेश कपूर ने कहा, "उनकी आंतों में सूजन है, फिलहाल उनकी हालत स्थिर हैं और उन्हें जल्द ही स्वस्थ हो जाना चाहिए। गैस्ट्रो-सर्जन उनके स्वास्थ्य की निगरानी कर रहे हैं।"

समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव की तबीयत खराब हो गई है। उन्हें यहां के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

एक तरफ जहां पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव, सीएए और एनआरसी का विरोध कर रहे हैं तो वहीं उन्हीं की परिवार की सदस्य इसका समर्थन कर रही हैं। समाजवादी पार्टी के सरंरक्षक मुलायम की छोटी बहू अपर्णा यादव ने इसे लेकर ट्वीट किया है।

सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव का आज 81वां जन्मदिन है। मगर उनका यह जन्मदिन बेटे और भाई की खींचतान में फंस गया है। इस खास मौके पर अखिलेश यादव व शिवपाल सिंह यादव अपने-अपने तरीके से उनका जन्मदिन मना रहे हैं।

मुलायम के जन्मदिन पर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) और समाजवादी पार्टी (सपा) दोनों अलग-अलग आयोजन करेंगी। प्रसपा कार्यकर्ता जन्मदिन को एकता दिवस के तौर पर मनाएंगे और सैफई में विराट दंगल होगा।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को समाजवादी पार्टी के संरक्षक और पूर्व सीएम मुलायम सिंह यादव मुलाकात की। वहीं मुलाकात के दौरान प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के मुखिया और मुलायम के छोटे भाई शिवपाल सिंह यादव भी मौजूद रहे।

लोकसभा चुनाव के बाद अखिलेश यादव और शिवपाल यादव दोनों के सामने अपने-अपने राजनीतिक अस्तित्व को बचाए रखने की चुनौती है। यही वजह है कि दोनों के बीच जमी कड़वाहट की बर्फ पिघलनी शुरू हो गई है।

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा समाजवादी पार्टी (सपा) संरक्षक और पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव को आवंटित आलीशान बंगला और लोहिया ट्रस्ट कार्यालय का भवन खाली कराए जाने के बाद अब उनकी मंहगी एसयूवी मर्सिडीज कार भी वापस ली जाने वाली है।

उत्तर प्रदेश की योदी आदित्यनाथ सरकार ने समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता आजम खान के बाद अब मुलायम परिवार को बड़ा झटका दिया है और सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद यूपी सरकार ने मुलायम परिवार से लोहिया ट्रस्ट बिल्डिंग खाली करवा लिया है।