मोदी कैबिनेट

केंद्र की मोदी सरकार ने बुधवार को रेलवे कर्मचारियों को बड़ा तोहफा दिया है। मोदी कैबिनेट ने रेलवे कर्मचारियों को इस साल 78 दिन का बोनस देना का फैसला किया है। इसका फायदा रेलवे के 11 लाख कर्मचारियों को मिलेगा। इस पर 2024 करोड़ रुपये का खर्च आएगा।

पूर्व प्रधान सचिव नृपेंद्र मिश्रा के पदमुक्त होने के बाद पीके मिश्रा को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नए प्रधान सचिव के तौर पर नियुक्त किया गया है। पीके मिश्रा ने अपना पदभार संभाल भी लिया है।

पीएम मोदी ने ट्वीट किया, ''अब श्री नृपेंद्र मिश्रा जी के सेवामुक्त होने के अनुरोध को स्वीकार कर लिया गया है। वो अपनी इच्छा के अनुरूप सितंबर के दूसरे हफ्ते से कार्यमुक्त हो जाएंगे। आगे के लिए उन्हें बहुत-बहुत शुभकामनाएं''।

इस बैठक में  रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृहमंत्री अमित शाह मौजूद हैं। साथ ही साथ राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल भी बैठक में शामिल हैं। कैबिनेट बैठक से पहले पीएम आवास पर सुरक्षा समिति की भी बैठक हुई है।

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने चिटफंड (संशोधन) विधेयक 2019 को संसद में पेश करने के लिए बुधवार को मंजूरी दी। इस विधेयक का मकसद पंजीकृत चिटफंड उद्योग के अनुपालन संबंधी बोझ को कम करना और इस क्षेत्र को सरल बनाना है।

बुधवार को मोदी कैबिनेट की बैठक हुई जिसमें कई सारे महत्वपूर्ण फैसले लिए गए। इस बैठक में जम्मू-कश्मीर में आर्थिक रुप से कमजोर लोगों को लिए आरक्षण की मंजूरी दी गई है और साथ ही सुप्रीम कोर्ट में जोजों की संख्या में बढ़ोत्तरी भी की गई है।

बिना इस्तेमाल वाली रकम एक नेशनल CSR फंड में जाएगी। सभी कंपनियों के शेयरों को डीमैट में बदलने की प्रक्रिया भी सिलसिलेवार ढंग से बढ़ाई जाएगी।

बजट से ठीक दो दिन पहले नरेंद्र मोदी सरकार ने किसानों को बंपर तोहफा दिया है। बुधवार को हुई मोदी कैबिनेट की बैठक में धान की एमएसपी 85 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ाई गई। अब धान की एमएसपी बढ़कर 1835 रु प्रति क्विंटल हो गई।

केंद्रीय गृहमंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह 30 जून को कश्मीर घाटी के एक दिवसीय दौरे पर जाएंगे। सूत्रों ने यह जानकारी दी। एक जुलाई से शुरू हो रही अमरनाथ यात्रा से एक दिन पहले शाह 30 जून को बाबा बर्फानी के दर्शन करेंगे।

राष्ट्रपति भवन परिसर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित 58 मंत्रियों पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। अब सबकी निगाहें मंत्रियों के पोर्टफोलियो पर टिकी है। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पहली बार मोदी सरकार का हिस्सा बने हैं, ऐसे में हर किसी की नजर है कि उन्हें क्या जिम्मेदारी मिलती है।