मोदी सरकार

नोटबंदी के तीन साल पूरा होने पर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मोदी सरकार पर निशाना साधा। प्रियंका गांधी ने शुक्रवार को केंद्र सरकार पर हमला करते हुए कहा कि नोटबंदी एक ‘आपदा’ साबित हुई है जिसने देश की अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर दिया।

ब्रिटेन में जन्मे आतिश अली तासीर पर आरोप है कि उन्‍होंने पिता के पाकिस्तानी मूल के होने की जानकारी छुपाई थी। बता दें कि लोकसभा चुनाव से पहले तासीर ने टाइम मैगजीन में प्रधानमंत्री मोदी पर आर्टिकल लिखते हुए उन्हें 'डिवाइडर इन चीफ' कहा था।

चाहे केंद्र की मोदी सरकार हो या फिर उत्तर प्रदेश की योगी सरकार, भाजपा सरकार कहीं भी भ्रष्टाचार को बढ़ावा नहीं देने वाली है और इसका साफ उदाहरण दिखता है कि योगी सरकार ने भ्रष्टाचार के मामले में लिप्त 7 पीपीएस अफसरों को जबरन रिटायर कर दिया है।

इस बार दिल्ली वालों ने दिवाली पर पटाखों नहीं फोड़े यह सोचकर कि उनको प्रदूषण से छुटकारा मिलेगा, लेकिन नतीजा वही का वही निकला। पंजाब और हरियाणा में जलाई जा रही पराली ने दिल्ली का हवा को जहरीला बना दिया, जिससे लोगों को सांस लेने में भी परेशानी होने लगी।

बैंकॉक में आरसीईपी समिट को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आरसीईपी की कल्पना करने से हजारों साल पहले भारतीय व्यापारियों, उद्यमियों और आम लोगों ने इस क्षेत्र के साथ संपर्क स्थापित किया था।

इसके साथ ही अब भारत में 28 राज्य और 9 केंद्र शासित प्रदेश हो गए हैं। अब मोदी सरकार ने नया नक्शा जारी किया है जिसमें जम्मू-कश्मीर और लद्दाख अलग दिख रहा है।

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के लिए अमेरिकी सांसद जॉर्ज होल्डिंग ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जमकर तारीफ की है। अमेरिकी सांसद ने गुरुवार को कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा वापस लिए जाने को लेकर मोदी सरकार की प्रशंसा की।

मोदी सरकार इस समय जिस योजना पर पूरे जोर-शोर से काम कर रही है उससे अगले कुछ महीनों में देश के 11.5 करोड़ किसान परिवारों से सीधा संपर्क किया जा सकेगा। संवाद की यह कवायद अभूतपूर्व है जिसे अमलीजामा पहनाने की दिशा में कोशिशें जारी हैं।

सिद्धू ने कहा, “करतारपुर कॉरिडोर के ऐतिहासिक उद्घाटन में मुझे आमंत्रित करने के लिए मैं पाकिस्तान के प्रधानमंत्री का आभारी हूं।” इमरान खान के निर्देश पर, समाचार एजेंसी पीटीआई सीनेटर फैजल जावेद ने सिद्धू से संपर्क किया और उन्हें यहां आने का न्यौता दिया।

माना जा रहा है कि जम्मू के इलाके की सीटें बढ़ेंगी, क्योंकि हमेशा से ये कहा जाता रहा है कि जम्मू को पूरा प्रतिनिधित्व नहीं मिलता है। जम्मू संभाग की आबादी 69 लाख है, और वहां से 37 सीटें हैं जबकि कश्मीर घाटी की आबादी 53 लाख है, और वहां से 43 सीटें हैं।