मौलाना साद

निजामुद्दीन मरकज मामले में तबलीगी जमात से संबद्ध लोगों को अदालत से जमानत दिये जाने पर विश्व हिंदू परिषद ने सवाल उठाया है। इस मसले पर विहिप ने विदेशी तबलीगी जमात से जुड़े लोगों को महज 7 हजार के जुर्माने पर छोड़े जाने पर प्रश्न खड़ा किया है।

सीसीटीवी फुटेज में देखा जा सकता है कि काफी लोगों को मस्जिद के अंदर से नमाज पढ़ने के बाद आते हुए देखा जा सकता है। इसी बीच मौलाना साद भी हाथ में कुछ लेकर मस्जिद से बाहर आते हुए दिखाई दे रहे हैं।

दिल्ली पुलिस के सूत्रों के मुताबिक, तबलीगी जमात के प्रमुख ने आज दिल्‍ली के जाकिर नगर की अबू बकर मस्जिद में जुमे की नमाज अदा की। बताया जा रहा है कि थोड़ी देर रुककर वह वापस लौट गया।

भले ही दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच दो महीने बाद भी निजामुद्दीन मरकज तबलीगी कांड के मुख्य आरोपी मौलाना मो. साद पर हाथ नहीं डाल पायी हो, मगर वो अदालत में चार्जशीटें धुंआधार तरीके से भरने में लगी है। अब आज यानि गुरुवार को दिल्ली पुलिस 12 और नई चार्जशीट दाखिल करने जा रही है।

क्राइम ब्रांच को पूछताछ में जमातियों ने बताया है कि कोरोना फैलने की खबरें आने के बाद वो 20 मार्च को निजामुद्दीन मरकज छोड़ देना चाहते थे, लेकिन मौलाना साद ने उन्हें जाने नहीं दिया। 

गौरतलब है कि मरकज में इंडोनेशिया, मलेशिया, थाइलैंड, ईरान, चीन और बांग्लादेश समेत कई देशों से जमाती आए हुए थे। मरकज में शामिल होने के बाद यह लोग देश के अलग-अलग हिस्सों में गए थे। मरकज का कोरोना कनेक्शन सामने आने के बाद कई सभी विदेशी जमातियों को क्वारनटीन किया गया था।

मौलाना साद फरार है। क्राइम ब्रांच की तफ्तीश में साद और उससे जुड़े लोगों के उत्तर प्रदेश में कुछ बैंक खातों का पता लगा है। 7 के करीब इन बैंक खातों को भी फ़्रीज़ कर दिया गया है। जांच में अब तक क्राइम ब्रांच को मरकज और उससे जुड़े लोगों के 32 बैंक खातों का पता लग चुका है।

दिल्ली पुलिस की एक ताजा रिपोर्ट में चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। दिल्ली पुलिस के मुताबिक तबलीगी जमात के कार्यक्रम में 3 नहीं बल्कि 15 हजार लोगों ने शिरकत की थी। 

कोरोना संक्रमण के बीच निजामुद्दीन मरकज में तब्लीगी जमात के कार्यक्रम का आयोजन करवाने के बाद चर्चा में आए मौलाना साद की मुश्किलें कम होती नहीं दिख रही हैं।

निजामुद्दीन की उस 6 मंजिला मरकज जहां से मौलाना साद दुनियाभर के मुसलमानों का अपनी सोच और अल्फाजों से ब्रेनवाश करने की कोशिश करता है।