याचिका

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना विस्फोट हुआ है। कोरोना वायरस का प्रकोप इतनी तेजी से बढ़ रहा है कि दिल्ली सरकार की चिंताएं बढ़ी हुई हैं। दिल्ली में कोरोना के बेकाबू होती रफ्तार का मामला अब कोर्ट तक पहुंच गया है।

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने अजान को लेकर एक बड़ा फैसला दिया है। कोर्ट ने कहा है कि अजान इस्लाम का अहम हिस्सा है। लेकिन इसके साथ ही हाईकोर्ट ने एक और बात कही है।

पिछले दिनों कोर्ट में याचिका दायर कर ये मांग की गई थी कि वंदे मातरम को भी राष्ट्रगान का दर्जा मिले। दिल्ली हाईकोर्ट ने इस याचिका को खारिज कर दिया है। इस याचिका में कहा गया था कि वंदे मातरम को अभी तक जन-गण-मन के समान दर्जा नहीं मिला। 

सर्वोच्च न्यायालय ने बुधवार को एक बयान में कहा, "कॉलेजियम ने 12 अप्रैल, 2019 को उपर्युक्त अनुशंसा को फिर से दोहराया जिसमें कहा कि (1) अनिरुद्ध बोस और (2) ए.एस. बोपन्ना की योग्यता, आचरण या अखंडता के बारे में कुछ भी प्रतिकूल नहीं है।"