यूपी

बच्चों को छुड़ाने के लिए एटीएस का कमांडो दस्ता फर्रुखाबाद के लिए रवाना हो गया है। घर के पास जाने से शख्स घर के अंदर से रुक-रुककर फायरिंग भी कर रहा है।

आपको बता दें कि शरजील पर केस दिल्ली और यूपी पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है और उसकी तलाश में पुलिस की टीम दिल्ली, यूपी समेत बिहार में भी छापेमारी कर रही हैं।

इस तरह से मेरठ के आईजी और एडीजी का भी रोल घट गया है। अब दोनों कमिश्नरों का सुपरविजन डीजीपी करेंगे। नोएडा में कोई ग्रामीण थाना नहीं होगा। नोएडा में पूरा क्षेत्र कमिश्नर के अधीन होगा।

यूपी की तरह अब दिल्ली में भी दंगाइयों से सार्वजनिक संपत्ति के नुकसान की भरपाई कराने का अभियान शुरू किया जाएगा। इसके लिए ज़रूरी कार्यवाही शुरू कर दी गई है।

 उत्तर प्रदेश में नागरिक संशोधन अधिनियम (सीएए) के खिलाफ हुए हिंसक विरोध प्रदर्शन में 12 लोगों की मौत के बाद प्रारंभिक जांच से पता चला है कि बड़े पैमाने पर हुई हिंसा का तार पश्चिम बंगाल से जुड़ा है। लखनऊ में गुरुवार को हुई हिंसा व आगजनी में राज्य की संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वाले कोलकाता के कम से कम छह लोग शामिल थे।

उग्र प्रदर्शन को लेकर दिल्ली पुलिस का कहना है कि प्रदर्शनकारियों ने पथराव किया जिसमें ज्वाइंट सीपी और कई पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। दिल्ली गेट पर प्रदर्शनकारियों ने एक प्राइवेट कार को आग लगा दी, जिसके बाद माहौल तनावपूर्ण हो गया।

इस दौरान प्रदेश अध्यक्ष का नाम लिए बिना पूर्व सांसद संतोष सिंह ने कहा, "जिस कुर्सी पर पुरुषोत्तम दास टंडन और गणेश शंकर विद्यार्थी जैसे लोग रहे, उस पर टिकट ब्लैक करने वाले बैठ गए हैं। अनुशासन समिति में वे लोग हैं, जो खुद अपराधी हैं और कांग्रेस को जानते ही नहीं, वे हमें कैसे निकाल सकते हैं।"

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने पांच बार विधायक रह चुके राम प्रसाद को अनुशासनहीनता और पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण पार्टी से निकाल दिया है।

रायबरेली सदर से कांग्रेस की विधायक अदिति सिंह पंजाब के शहीद भगत सिंह नगर से कांग्रेस विधायक अंगद सिंह सैनी से शादी करेंगी। विवाह समारोह नई दिल्ली के एक रिसॉट में 21 नवंबर को होगा। निमंत्रण कार्ड सीमित अतिथियों को दिए जा रहे हैं। दूल्हे के परिवार की ओर से भी 23 नवंबर को एक प्रीतिभोज आयोजित किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश के कुशीनगर स्थित एक मस्जिद में विस्फोट मामले में पुलिस ने मौलवी सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया है। मामले में पुलिस ने सात लोगों पर प्राथमिकी दर्ज की थी। गिरफ्तार किए गए चार नामजदों में उसी मस्जिद का मौलवी मौलाना अजमुद्दीन भी शामिल है, वहीं तीन आरोपी अभी भी फरार हैं।