रतन लाल

दिल्ली पुलिस ने दिल्ली में हुए दंगों को लेकर कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। दिल्ली पुलिस के मुताबिक 22 फरवरी को जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के नीचे लोग इकट्ठा हुए थे। उसके पास ये जानकारी थी ये लोग हिंसा कर सकते हैं।

दिल्ली में फैली हिंसा के दौरान घायल हुए सहायक पुलिस आयुक्त (एसीपी) अनुज कुमार अब खतरे से बाहर हैं। इसके बाद अनुज कुमार ने उस दिन की घटना का पूरा विवरण मीडिया के सामने रखा।

दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल बुधवार को पूरे एक्‍शन में दिखे। विधानसभा सत्र में उन्‍होंने हिंसा में शहीद हुए रतन लाल के परिवार को आर्थिक मदद के एलान का किया।