रविशंकर प्रसाद

रविशंकर प्रसाद ने विपक्ष पर जोरदार हमला बोलते हुए कहा कि पहले हमें चुनाव में हराओ और अपनी सरकार बनाओ। हमें सेक्युलरिज्म का पाठ मत पढ़ाओ।

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने शुक्रवार को कहा कि कांग्रेस पार्टी राजधर्म के नाम पर लोगों को भड़काने का काम ना करे। भाजपा नेता ने आरोप लगाया कि सोनिया गांधी ने रामलीला मैदान में भड़काऊ बयान दिए थे।

केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने शनिवार को कहा था कि मोदी सरकार शाहीन बाग के प्रदर्शनकारियों से बातचीत के लिए तैयार है।

गौरतलब है कि बीजेपी का मानना है कि पिछले साल अगस्त में अनुच्छेद 370 के निरस्त होने के बाद केंद्र शासित प्रदेश में विकास कार्यों को शुरू करने के संबंध में जमीनी स्थिति का आंकलन करने के लिए मंत्रियों की जम्मू कश्मीर की यात्रा अहम साबित होगी।

देश में अभी तक 1.30 लाख ग्राम पंचायतें भारतनेट से जुड़ चुकी हैं। सरकार का इरादा देश की ढाई लाख पंचायतों को भारतनेट के तहत ऑप्टिकल फाइबर से कनेक्ट करने का है।

रविशंकर प्रसाद ने कहा, 'देशभर में 1023 नए फास्ट ट्रैक कोर्ट के गठन का प्रस्ताव दिया गया है। इनमें से 400 पर आम सहमति बन गई है और 160 से ज्यादा पहले ही शुरू हो चुके हैं। इसके अलावा 704 फास्ट ट्रैक कोर्ट पाइप लाइन में हैं।'

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) झारखंड में समाज के हर तबके से सैकड़ों वादे कर वोटरों को लुभाने की कोशिश कर रही है। इसमें राज्य से नक्सली संकट को खत्म करना भी शामिल है।

अब इस फैसले के बाद केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस पर करारा वार किया है। रविशंकर प्रसाद ने फैसले के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि राहुल गांधी और कांग्रेस ने देश को गुमराह किया है, ऐसे में उन्हें देश से माफी मांगनी चाहिए।

सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने व्हाट्सएप से 4 नवंबर तक विस्तृत जवाब मांगा है। गुरुवार को फेसबुक के स्वामित्व वाले व्हाट्सएप ने कहा कि इजरायली स्पाईवेयर पीगासस भारतीय पत्रकार और मानवाधिकार कार्यकर्ताओं की जासूसी कर रहा था।

आज रविशंकर प्रसाद अपने दिए बयान से यू टर्न लेते हुए दिखाई दिए। उन्होंने अपने सफाई में प्रेस रिलीज करते हुए कहा कि मेरे बयान को तोड़मोड़ कर दिखाया गया है। हालांकि मैं अपने बयान को वापस लेता हूं।