राज ठाकरे

ठाकरे ने कहा, अगर ऐसा है तो महाराष्ट्र में प्रवेश करने वाले किसी भी प्रवासी को महाराष्ट्र सरकार और राज्य पुलिस से अनुमति लेने की जरूरत होगी। महाराष्ट्र सरकार को इस मामले को गंभीरता से देखने की जरूरत है।

उत्तर प्रदेश सरकार और महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के चीफ राज ठाकरे प्रवासी मजदूरों के मसले परआमने-सामने आ गए हैं। राज ठाकरे ने कहा कि सीएम योगी आदित्यनाथ भी यह बात ध्यान रख लें कि प्रवासियों को अब महाराष्ट्र आने से पहले इजाजत लेनी चाहिए। इसके साथ ही राज ठाकरे ने उद्धव सरकार से एक अपील भी की।

राज ठाकरे ने कहा कि मुल्ला और मौलवी कहां हैं? ये लोग लोगों के दिमाग में संदेह पैदा कर रहे हैं...यदि कल को कोई पार्टी या सरकार कोई स्टैंड लेती है...तो फिर उसे दोष न दें...करेला हमेशा करेला ही रहेगा।

मुंबई की भाषा हिन्दी कहने पर आपत्ति जताते हुए शो का राज ठाकरे की पार्टी महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना(मनसे) ने विरोध किया है।

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के अध्यक्ष राज ठाकरे द्वारा रविवार दोपहर निकाले गए मेगा-मार्च में करीब एक लाख से अधिक लोगों ने हिस्सा लिया।

उद्धव ठाकरे ने अपने मुखपत्र सामना में राज ठाकरे और उनकी राजनीति को लेकर तंज कसा और उनके द्वारा पार्टी का झंडा और नारा बदलने पर सवाल भी उठाया।

शिवाजी से पहले, मराठों की मुहरें फारसी में हुआ करती थी। शिवाजी ने सांस्कृतिक प्रवृत्ति शुरू की, जिसका अनुपालन उनके वंशजों और अधिकारियों ने किया। अब इसी राह पर राज ठाकरे चलते हुए नजर आ रहे हैं।

मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे ने राज्य में हालिया राजनीतिक घटनाक्रम को लोगों का अपमान बताया। साथ ही पूर्ववर्ती भाजपा-शिवसेना गठबंधन पर भी हमला बोला। उन्होंने कहा कि शिवसेना और भाजपा ने जनता की भावनाओं का अपमान किया है।

मनसे प्रमुख ने पुणे में मीडिया को संबोधित करते हुए कहा, "शिवसेना-भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने जनता की भावनाओं का अपमान किया है। सेना का राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा)-कांग्रेस से हाथ मिलाना सही नहीं है।"

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) राज्य में 21 अक्टूबर को होने जा रहे विधानसभा चुनाव में उतरेगी। पार्टी प्रमुख राज ठाकरे ने सोमवार को यह घोषणा की। पार्टी अधिकारियों के साथ बैठक के दौरान राज ठाकरे ने कहा, "हम विधानसभा चुनाव लड़ेंगे और जीतेंगे भी। सीटों और उम्मीदवारों की घोषणा आने वाले दिनों में की जाएगी।"